करण जौहर को NCB के नोटिस पर बोले कांग्रेस नेता- कंगना रनौत को अब तक क्यों नहीं बुलाया?

करण जौहर-कंगना रनौत की फाइल फोटो.

करण जौहर-कंगना रनौत की फाइल फोटो.

महाराष्ट्र के कांग्रेस नेता सचिन सावंत ने सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि ये बदनाम करने की साजिश है. कांग्रेस नेता ने कहा कि वो वीडियो 2019 का है, तब तत्कालीन फडणवीस सरकार ने जांच क्यों नहीं की थी?

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2020, 10:16 AM IST
  • Share this:
मुंबई. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने हाल ही में बॉलीवुड फिल्ममेकर करण जौहर (Karan Johar) को नोटिस भेजकर साल 2019 में पार्टी को लेकर कुछ सवाल किए थे. करण जौहर ने एनसीबी को अपने जवाब भेज दिया है. इस मामले पर महाराष्ट्र के कांग्रेस नेता सचिन सावंत ने सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि ये बदनाम करने की साजिश है. कांग्रेस नेता ने कहा कि वो वीडियो 2019 का है, तब तत्कालीन फडणवीस सरकार ने जांच क्यों नहीं की थी? आखिर एनसीबी कंगना रनौत (Kangana Ranaut)को समन क्यों नहीं भेज रही?

कांग्रेस नेता सचिन सावंत ने ट्वीट कर सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि जब फडणवीस सरकार सत्ता में थी तो एनसीबी ने करण जौहर की पार्टी की जांच क्यों नहीं की? वीडियो 2019 में वायरल हुआ था और फडणवीस गृह मंत्री थे.

सावंत ने यह भी सवाल किया कि आखिर NCB अभी भी जांच के लिए कंगना रनौत को क्यों नहीं बुला रही है? जबकि कंगना ने एक वीडियो में खुद मादक पदार्थों को लेने की बात कबूल की थी. वहीं, NCB उन मुद्दों पर जांच कर रही है, जिनका सुशांत केस से कोई संबंध नहीं है.

कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि इनका असली मकसद महाराष्ट्र को बदनाम करना है. सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा यूपी में एक नई फिल्म सिटी शुरू करने का फैसला करने के बाद मुंबई पुलिस और बॉलीवुड की बदनामी शुरू हुई. बीजेपी ने अपनी गंदी राजनीति के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसियों और सुशांत केस का इस्तेमाल किया.
आपको बता दें कि करन जौहर ने 28 जुलाई 2019 को हाउस पार्टी होस्ट की थी. इसमें दीपिका पादुकोण, मलाइका अरोड़ा, अर्जुन कपूर, शाहिद कपूर, वरुण धवन, जोया अख्तर, विकी कौशल, अयान मुखर्जी और रणबीर कपूर समेत कई लोग मौजूद थे. पार्टी का वीडियो खुद करन जौहर ने शूट कर सोशल मीडिया पर डाला था. इस पार्टी में ड्रग्स के इस्तेमाल के आरोप लगे थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज