शाहरुख के साथ इस सीन की शूटिंग में खून से लथपथ हो गई थीं मलाइका अरोड़ा, कहा- बहुत दर्द हुआ था

शाहरुख खान के साथ इस सीन की शूटिंग करते वक्त मलाइका अरोड़ा ने अपने कमर में घाघरा को रस्सी से बांधा था. इसके बाद भी खून से लथपथ मिली थीं. जानिए पूरी कहानी, क्या हुआ था...

News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 11:40 AM IST
शाहरुख के साथ इस सीन की शूटिंग में खून से लथपथ हो गई थीं मलाइका अरोड़ा, कहा- बहुत दर्द हुआ था
चल छैयां-छैयां गाने की शूटिंग थी बेहद मुश्किल.
News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 11:40 AM IST
बॉलीवुड की आइटम गर्ल मलाइका अरोड़ा ने एक बड़ा खुलासा किया है. अपनी खूबसूरती और अपने फ‌िटनेस से युवा अभिनेत्रियों को मात देने वाली 45 वर्षीय अभिनेत्री ने बताया कि कैसे अपने सबसे सुपरहिट गाने की शूटिंग के दौरान खून से लथपथ हो गई थीं और सेट पर मौजूद सभी लोग घबरा गए थे.

पहले ही गाने को चलती ट्रेन पर किया था शूट
दबंग, हाउसफुल जैसी कितनी ही फिल्मों में अपने आइटम डांस से सुर्खियां बटोरने वाली मलाइका के करियर की शुरआत साल 1998 में शाहरुख खान के साथ फिल्म 'दिल से' से हुई थी. इसमें एआर रहमान के संगीत और सुखविंदर सिंह व सपना अवस्‍थी की दमदार आवाज में रिकॉर्ड किए गए गाने 'चल छैयां-छैयां' पर मलाइका को शाहरुख के साथ चलती ट्रेन पर शूट करना था.



मलाइका ने रस्सी से बांधा था घाघरा
एक बेहद मशहूर डांसिंग टीवी रियालिटी शो में जज की भूमिका निभा रहीं मलाइका ने डांस से जुड़े अनुभवों के बारे में बताया. मलाइका कहती हैं, 'चल छैयां-छैयां की शूटिंग के वक्त मैं कई दफे गिरी थी. चलती ट्रेन पर तेज हवा और ट्रेन के साथ लगातार मुझे दायीं और बायीं ओर झुककर संतुलन बनाना पड़ता था. ऐसे में घाघरा पहन कर संतुलन बिठाना काफी कठिन हो रहा था. तभी टीम के कुछ लोगों ने मेरे कमर में घाघरा को रस्सी से बांध दिया.'

malaika arora
गाने का एक दृश्य.

Loading...

कमर से रस्सी खोलते ही दिखे कई कटः मलाइका
मलाइका अरोड़ा ने बताया, 'रस्सी बांधकर मैंने शूटिंग तो जारी रखी. लेकिन जब कमर से रस्सी खोली तो कई जगहों पर कट के निशान बन गए थे. इनमें से खून बह रहा था. पूरी यूनिट ऐसा होते देख घबरा गई. मेरी कमर पर ऐसे कट और खून बहता देख कई लोग परेशान हो गए थे.'



यह भी पढ़ेंः काली लुंगी और गले में चेन, 'बच्चन पांडे' में अक्षय का लुक



कल्ट गाना है चल छैयां-छैयां
मलाइका अरोड़ा का इस गाने के लिए की गई मेहनत रंग लाई. गुलजार के लिखे और एआर रहमान के संगीत पर तैयार हुए इए गाने को आज भी सबसे जबर्दस्त आइटम सांग की श्रेणी में रखा जाता है. इस गाने को फराह खान ने कोरियोग्राफ किया था. गाने को चलती ट्रेन पर फिल्माने का आइडिया निर्देशक मणिरत्नम का था.

यह भी पढ़ेंः 'जजमेंटल है क्या' समीक्षाः कंगना ने एक्टिंग से खींची नई लकीर
First published: July 27, 2019, 10:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...