COVID-19 के बीच नौकरी खो चुके युवाओं को रोजगार दिलाएंगे मनोज बाजपेयी, शुरू किया 'श्रमिक सहयोग' प्रोजेक्ट

COVID-19 के बीच नौकरी खो चुके युवाओं को रोजगार दिलाएंगे मनोज बाजपेयी, शुरू किया 'श्रमिक सहयोग' प्रोजेक्ट
मनोज बाजपेयी.

मनोज बाजपेयी (Manoj Pajpayee) भी अब ऐसे श्रमिकों की मदद के लिए आगे आए हैं, जो इस कोरोना वायरस के बीच अपने रोजगार से हाथ धो बैठे हैं और अब भारी आर्थिक समस्याओं का सामना कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 21, 2020, 7:14 PM IST
  • Share this:
मुंबई. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते देश के हजारों युवा अपना-अपना काम छोड़ अपने गृह नगर वापस आ गए हैं. खासकर प्रवासी मजदूरों को कोरोना के बीच खासा नुकसान उठाना पड़ा है. ऐसे में कई बॉलीवुड सेलिब्रिटी इन प्रवासियों की मदद के लिए आगे आए. इनमें बॉलीवुड और साउथ की फिल्मों में विलेन का रोल करने वाले सोनू सूद (Sonu Sood) का नाम सबसे आगे रहा. इस बीच मनोज बाजपेयी (Manoj Pajpayee) भी अब ऐसे श्रमिकों की मदद के लिए आगे आए हैं, जो कोरोना वायरस के बीच अपने रोजगार से हाथ धो बैठे हैं और अब भारी आर्थिक समस्याओं का सामना कर रहे हैं.

इसके लिए मनोज बाजपेयी ने 'श्रमिक सहयोग (Shramik Sahyog)' प्रोजेक्ट की शुरुआत की है. मनोज बाजपेयी ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी है. एक्टर ने प्रोजेक्ट की जानकारी देते हुए लिखा है- 'आप सब के लगातार सहयोग से हमने 'श्रमिक सहयोग' प्रोजेक्ट के जरिये फिर से सफलतापूर्वक एक रोजगार की इकाई चालू की है. इस बार बिहार के बिहपुर गांव, जिला भागलपुर में कच्ची घानी की स्थापना की है. बिहपुर गांव और आसपास के गांव के काफी युवा मुंबई (Mumbai), दिल्ली (Delhi) और अन्य जगहों पर रोजगार के लिए पलायन करते रहते हैं.'

ये भी पढ़ेंः यश चोपड़ा के जन्मदिन पर सलमान खान के फैंस को तोहफा, 'Tiger 3' के ऐलान की तैयारी में YRF!



मनोज बाजपेयी आगे लिखते हैं- 'हमारे इस कच्ची घानी प्लांट से लोकल स्तर ना केवल रोजगार पैदा होगा बल्कि साथ ही में किसानों को भी सीधे तौर पर बाजार मिलेगा और उनको भी आर्थिक मजबूती मिलेगी. यह प्लांट से लोकल मार्केट भी बनाएगा और लोकल आर्थिक व्यवस्था को मजबूत करने का भी काम करेगा. इस कार्य को सफल करने के लिए हमको युसूफ मेहरअली सेंटर ने अपना प्रांगण मुहैया कराया जिसमे हम प्लांट स्थापित कर सके और बॉम्बे सर्वोदय फ्रेंडशिप सेंटर ने आर्थिक सहयोग दिया. हम दोनों के ही तहे दिल से आभारी हैं.'
View this post on Instagram

आप सब के लगातार सहयोग से हमने 'श्रमिक सहयोग' प्रोजेक्ट के ज़रिये फिरसे सफलतापूर्वक एक रोज़गार की इकाई चालू की। इस बार बिहार के बिहपुर गाँव, जिला भगलपुर में कच्ची घनी की स्थापना की है। बिहपुर गांव और आसपास के गांव के काफी युवा मुंबई, दिल्ली और अन्य जगहों पर रोजगार के लिए पलायन करते रहते है। हमारे इस कच्ची घनी प्लांट से लोकल स्तर नाकि रोज़गार पैदा होगा बल्कि साथ ही में किसानों को भी सीधे तौर पर बाज़ार मिलेगा और उनको भी आर्थिक मजबूती मिलेगी। यह प्लांट से लोकल मार्किट भी बनाएगा और लोकल आर्थिक व्यवस्था को मज़बूत करने का भी काम करेगा। इस कार्य को सफल करने के लिए हम युसूफ मेहरअली सेंट्रर ने उनका प्रांगण मुहैया कराया जिसमे हम प्लांट स्थापित कर सके और बॉम्बे सर्वोदय फ्रेंडशिप सेण्टर ने आर्थिक सहयोग दिया। हम दोनों के ही तहे दिल से आभारी है। ऐसे ही और सफल कार्यों के बारे में हम आपको समय-समय पर बताते रखेंगे, कृपया अपना सहयोग जारी रखे। लिंक के लिए bio पर जाकर क्लिक करें #livelihood #shramiksammaan #migrantworkers employment #BuildIndia @hhctsm @shramik.sammaan @nahklalib @larajesani @anilhebbar @chhitra_subramaniam @suryab @monicaraheja

A post shared by Manoj Bajpayee (@bajpayee.manoj) on




'ऐसे ही और सफल कार्यों के बारे में हम आपको समय-समय पर बताते रखेंगे, कृपया अपना सहयोग जारी रखें.' एक्टर के इस पोस्ट के बाद हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है और देश के युवा वर्ग के लिए उठाए उनके इस कदम के लिए बधाई दे रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज