जिस शोहरत का हकदार था, वो नहीं मिली; इनसिक्योरिटी से करियर डूब गया: 'मिर्जापुर' फेम दद्दा

कई फिल्मों में मेरे रोल पर कैंची चला दी गई. फिल्मी करियर से संतुष्ट नहीं हूं. (Image Credit: Mirzapur Web Series)

राजपाल यादव (Rajpal Yadav) की चर्चा करते हुए इंटरव्यू में कॉमेडी एक्टर लिलिपुट (Lilliput) बोले- यही एक क्षेत्र है, जिसमें किस्मत ने साथ दिया तो स्टार, जिसे लक का साथ नहीं मिला वो बेकार.'

  • Share this:
    मुंबई. बॉलीवुड और फिल्म इंडस्ट्री में अनेक हास्य कलाकार हैं. इनमें कुछ एक्टर बहुत सफल और शोहरतमंद हैं जैसे जॉनी लीवर और राजपाल यादव. एक और कॉमेडी एक्टर हैं जो अपनी दमदार एक्टिंग के लिए जाने जाते हैं, नाम है लिलिपुट (Lilliput). उन्होंने 'मिर्जापुर' वेब सीरीज में दद्दा त्यागी का किरदार निभाया था. वे पर्दे पर अपनी एक्टिंग से लोगों को हंसने पर मजबूर कर देते हैं, लेकिन रियल लाइफ वे सीरियस नेचर के शख्स हैं. उन्होंने एक मीडिया हाउस को दिए इंटरव्यू में अपने करियर के उतार-चढ़ाव और अपने बारे में खुलकर बातचीत की है.

    लिलिपुट ने कहा कि, मैं जब भी अपने करियर में पीछे मुड़कर देखता हूं तो महसूस होता है कि इंडस्ट्री ने तो मुझे बहुत कुछ देने की कोशिशें की, लेकिन मेरे अंदर ही हीनभावना भरी हुई थी और इसके कारण मैंने अवसर गंवा दिए. मैं बहुत अधिक पार्टियों में नहीं जाता, इसलिए लोग मेरी इज्जत करते हैं. मैंने पैसा नहीं कमाया है, लेकिन इज्जत तो कमाई है. फिल्मों में जो सफलता मुझे मिलनी चाहिए थी, वो नहीं मिली. मेरी कद को लेकर कई फिल्मों के ऑफर मिले थे, जिसे मैंने ठुकरा दिया और जो किए वो हिट नहीं हुईं. कई फिल्मों में मेरे रोल पर कैंची चला दी गई. फिल्मी करियर से संतुष्ट नहीं हूं. टीवी ने मुझे शोहरत दी, वहां मैं सक्सेस रहा.'

    लिलिपुट ने आगे कहा कि, 'जब मैं लिख रहा था तो जावेद अख्तर साहब ने मेरी प्रशंसा की. मैं ही रिस्पॉन्ड नहीं कर पाया. अमिताभ बच्चन ने मुझे चांस दिया. फिल्म 'आलीशान' में मैं बच्चन जी समानांतर कैरेक्टर में थे. पहले दिन सेट पर मुलाकात में मैं नर्वस हो गया. मुझे गड़बड़ हो गई. 10 दिन की शूटिंग के बाद फिल्म बंद हो गई. फिर ऋषि कपूर देवानंद के चौथे में मिल गए तो कहने लगे- 'अरे लिलीपुट, तू काम-वाम नहीं करता. तू दिखता ही नहीं है. फिर उन्होंने अपने अंदाज में गालियां भी दीं.' कमल हासन ने भी मुझे आगे बढ़ाने की कोशिश की. मेरी इनसिक्योरिटी से मेरा करियर डूब गया. मुझसे काम नहीं हो पाया. राजपाल यादव की चर्चा करते हुए एक्टर बोले- यही एक क्षेत्र है, जिसमें किस्मत ने साथ दिया तो स्टार, जिसे लक का साथ नहीं मिला वो बेकार.'