15 अगस्त को रिलीज होगी 'द ब्रदरहुड', मॉब लिंचिंग पर आधारित है कहानी

फ़िल्म को भारतीय सेंसर बोर्ड ने सर्टिफिकेट देने से मना कर दिया था. अब इसे भारतीय सेंसर अपीलेट ट्रिब्यूनल ने पास किया है.

News18Hindi
Updated: August 11, 2018, 1:30 PM IST
15 अगस्त को रिलीज होगी 'द ब्रदरहुड', मॉब लिंचिंग पर आधारित है कहानी
द ब्रदरहुड
News18Hindi
Updated: August 11, 2018, 1:30 PM IST
भारत में मॉब लिंचिंग और साम्प्रदायिक हिंसा की घटनाओं पर आधारित डॉक्यूमेंट्री 'द ब्रदरहुड' 15 अगस्त को भारत के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रिलीज होगी. इससे पहले 10 और 11 अगस्त को टीवी नेटवर्क टाटा स्काई पर भी फ़िल्म के चार स्पेशल प्रिव्यू होंगे. फ़िल्म का निर्माण और निर्देशन वरिष्ठ पत्रकार पंकज पराशर ने किया है. उन्होंने बताया कि फ़िल्म को भारतीय सेंसर अपीलीय ट्रिब्यूनल ने पास किया है. दरअसल, फ़िल्म को भारतीय सेंसर बोर्ड ने सर्टिफिकेट देने से मना कर दिया था.

यह डॉक्यूमेंट्री बीते दिनों हुई अखलाक नामक व्यक्ति की हत्या पर आधारित है. दिल्ली के नजदीक दादरी के बिसाहड़ा गांव में 28 सितम्बर 2015 की रात अखलाक नामक व्यक्ति की हत्या कर दी गई थी. उस पर गाय की हत्या करने और मांस का सेवन करने का शक था. आजकल पूरे देश में ऐसी घटनाएं हो रही हैं.

पंकज पराशर का कहना है कि फ़िल्म यह बताती है कि जिन इलाकों में ऐसी घटनाएं हो रही हैं, वहां हिन्दू और मुसलमानों के बीच परस्पर घनिष्ठ रिश्ते हैं. लोग एक-दूसरे के बिना कोई रीति-रिवाज पूरे नहीं करते हैं. यहां के लोगों का कहना है कि केवल राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए राजनीतिक पार्टियां ऐसी घटनाओं को तूल दे रही हैं. यह देश की एकता, नागरिकों के मौलिक अधिकारों और संवैधानिक ढांचे के खिलाफ है. यह सब डॉक्यूमेंट्री की विषय वस्तु है. पंकज पाराशर ने बताया, 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म यूट्यूब पर रिलीज होगी. इससे पहले टाटा स्काई पर 10 और 11 अगस्त को चार बार विशेष प्रसारण होगा.

ये भी पढ़ें

न्यूज 18 के जाल में फंसा 'बंटी', खोल डाले Sacred Games के राज
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर