• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • अस्पताल से डिस्चार्ज हुईं 'नादिया के पार' फेम एक्ट्रेस सविता बजाज, कहा- 'मुझे नई जिंदगी मिली'

अस्पताल से डिस्चार्ज हुईं 'नादिया के पार' फेम एक्ट्रेस सविता बजाज, कहा- 'मुझे नई जिंदगी मिली'

अस्पताल से डिस्चार्ज हुईं एक्ट्रेस सविता बजाज. फाइल फोटो

फिल्म 'नादिया के पार' फेम एक्ट्रेस सविता बजाज (Savita Bajaj) को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है. एक्ट्रेस नूपुर अलंकार (Nupur Alankar) ने इसकी पुष्टि की है. सविता बजाज की तबीयत और बिगड़ गई थी और उन्हें आईसीयू (Savita Bajaj admitted in ICU) में भर्ती करवाया गया था.

  • Share this:
    मुंबई. फिल्म 'नादिया के पार' फेम एक्ट्रेस सविता बजाज (Savita Bajaj) जीवन के बेहद कठिन दौर से गुजर रही हैं. सविता बजाज की तबीयत और बिगड़ गई थी और उन्हें आईसीयू (Savita Bajaj admitted in ICU) में भर्ती करवाया गया था. पिछले कुछ हफ्तों में कई लोग उनकी मदद के लिए आगे आए और अच्छी खबर यह है कि उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है. एक्ट्रेस नूपुर अलंकार (Nupur Alankar) ने इसकी पुष्टि की है.

    अभिनेत्री नूपुर अलंकार (Nupur Alankar) पूरे समय उनके साथ थीं और अब उन्होंने अभिनेत्री की देखभाल करने का जिम्मा अपने ऊपर लिया है. टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान नूपुर ने कहा, 'सविता जी की हालत देखकर मेरा दिल दुखा. वह कई सालों से इंडस्ट्री का हिस्सा रही हैं. आज उन्हें मदद की जरूरत थी और मैं उनके साथ रहना चाहती थी. CINTAA भी उनकी मदद करने में सबसे आगे रहा है. वह करीब 25 दिनों तक अस्पताल में रहीं और मुझे खुशी है कि आज उन्हें छुट्टी मिल गई है. सविता जी एक कमरे के किचन अपार्टमेंट में अकेली रहती थीं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि वह अब वहां रह सकती हैं. इसलिए मैं उन्हें अपनी बहन के यहाँ ले जा रही हूँ और हम सब उनकी देखभाल करेंगे.'

    नूपुर अलंकार की बहन के घर से अस्पताल पास में है जहाँ सविता (Savita Bajaj) जी भर्ती हुई थीं. नूपुर कहती हैं, 'भविष्य में जरूरत पड़ने पर उन्हें अस्पताल ले जाना आसान होगा. मैं उनसे मिलने रोज वहां जाउंगी, फिलहाल उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत है. हम सोनू सूद के आभारी हैं, जिन्होंने उनके लिए ऑक्सीजन की व्यवस्था की. एक बार जब वह पूरी तरह से ठीक हो जाएंगी तो हम उन्हें किराये के अपार्टमेंट में ले जाएंगे.'

    सविता बजाज ने कहा, 'मैं बेहतर महसूस कर रही हूं. नूपुर को मेरे लिए भगवान ने भेजा है. उसने मुझे आश्वासन दिया था कि वह हर समय मेरे साथ रहेंगी और उन्होंने अपनी बात रखी. वह मुझसे मिलने रोज अस्पताल आती थी. नूपुर और उनकी बहन जिज्ञासा मुझे अपने घर ले आई हैं. यह एक चमत्कार जैसा लगता है. मुझे लगता है मुझे नई जिंदगी मिल गई.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज