हिंदू-मुस्लिम राजनीति पर अभिनेता नवाजुद्दीन का बयान, कह दी ये बड़ी बात...

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) से जब देश में चल रही हिंदू-मुस्लिम वोट बैंक की राजनीति पर सवाल किया गया तो नवाज बेहद गम्भीर अन्दाज़ में बोले कि मैं सिर्फ़ यही कह सकता हूं कि अगर देश में...

शिखा धारीवाल | News18Hindi
Updated: May 1, 2019, 4:52 PM IST
शिखा धारीवाल | News18Hindi
Updated: May 1, 2019, 4:52 PM IST
अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी हाल ही में अपनी फ़िल्म बाल ठाकरे की मार्केटिंग हेड नीता शाह की किताब लॉंच करने पहुँचे. जहां उन्होंने न्यूज़ 18 इंडिया से हुई ख़ास बातचीत में साफ़ किया कि अगर नीता अपनी किताब 'The Stranger In Me' पर फ़िल्म बनाती हैं और उन्हें फ़िल्म ऑफ़र करती हैं तो वह उनकी फ़िल्म का हिस्सा ज़रूर बनेंगे. नवाजुद्दीन ने इस दौरान यह भी बताया कि उन्हें किताबें पढ़ना बहुत पसंद है और वह बचपन में किस तरह की किताबें पढ़ने के शौक़ीन थे.

नवाज ने न्यूज़ 18 इंडिया से खुलकर बातचीत में फ़िल्म, कंट्रोवर्सी और देश के मौजूदा हालात पर खुलकर चर्चा की. फ़िल्मों से जुड़ी कंट्रोवर्सी और पॉलिटिकल फ़िल्म बनाने की आज़ादी के सवाल पर हंसते हुए नवाज़ ने कहा कि आजकल हर बात पर कंट्रोवर्सी शुरू हो जाती है इस पर बताइए क्या करें.



तो वहीं राजनीतिक मुद्दों पर आजकल बॉलीवुड में चल रही ट्विटर वार पर नवाज़ ने गम्भीर होते हुए कहा कि मैं ट्विटर पर ज़्यादा एक्टिव नहीं रहता हूं. मेरी टीम मेरे सोशल मीडिया को देखती है तो मुझे नहीं मालूम रहता की ट्विटर पर क्या वार चल रही है या किसकी ट्रोलिंग हुई. मैं सोशल मीडिया के बजाय काम पर ध्यान देता हूं.

वहीं नवाज़ से जब देश में चल रही हिंदू-मुस्लिम वोट बैंक की राजनीति पर सवाल किया तो नवाज बेहद गम्भीर अन्दाज़ में बोले कि मैं सिर्फ़ यही कह सकता हूं कि अगर देश में तरक़्क़ी करनी है, देश को आगे बढ़ाना है तो हम सबको मिलकर काम करना पड़ेगा तभी चीज़ें अच्छी हो सकती हैं. लड़ाई झगड़े में कुछ नहीं रखा. उससे हमेशा नुक़सान ही होता है हर आदमी अपने देश से प्यार करता है और करना भी चाहिए. चाहे वो किसी भी धर्म और रिलीजन का हो तो इस वक़्त हम सबको मिलकर देश को आगे लेकर जाना है.

बातचीत को ख़त्म करने से पहले जब उनसे उस सवाल को किया गया जो इस वक़्त देश के हर नागरिक की जुबान पर है कि देश का प्रधानमंत्री कौन होगा? इस सवाल पर नवाजुद्दीन थोड़ा रुके फिर अपनी बात रखते हुए बोले कि जो भी नेता होंगे अच्छे ही होंगे क्योंकि लोग उन्हें चुनकर प्रधानमंत्री बनाएंगे और हम उनसे उम्मीद करेंगे कि देश का विकास हो और देश अभी आगे जा रहा और अब और आगे जाएगा.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...