• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • सुशांत सिंह राजपूत अपने जीवन के साथ ऐसा कैसे कर सकता है: नवाजुद्दीन सिद्दीकी

सुशांत सिंह राजपूत अपने जीवन के साथ ऐसा कैसे कर सकता है: नवाजुद्दीन सिद्दीकी

सुशांत सिंह राजपूत और नवाजुद्दीन सिद्दीकी.

सुशांत सिंह राजपूत और नवाजुद्दीन सिद्दीकी.

नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) ने कहा, 'सुशांत में भरपूर जिजिविषा थी. वह अपने शब्दों से अपने आस-पास मौजूद लोगों पर जादू कर सकता था. वह हर विषय पर बात करने की क्षमता रखता था. वह अपने जीवन के साथ ऐसा कैसे कर सकता है'

  • Share this:
    मुंबई. बॉलीवुड के दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) और नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) के बीच काफी अच्छे रिलेशन थे. दोनों एक-दूसरे के काम और एक्टिंग की जब भी मौका मिलता था, जमकर तारीफ करते रहते थे. नवाजुद्दीन सिद्दीकी 'सोनचिड़िया' और 'डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी (Detective Byomkesh Bakshi)' जैसी फिल्मों में दमदार अभिनय के लिए सुशांत सिंह राजपूत की मुक्तकंठ से प्रशंसा कर चुके हैं.

    नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने हाल ही में एक इंटरव्यू दिया था. इस इंटरव्यू में उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के असामायिक निधन पर आश्चर्य के साथ दुख व्यक्त किया था. सिद्दीकी ने कहा कि सुशांत एक्टर के साथ-साथ विचारवान शख्सियत थे. नवाजुद्दीन ने आश्चर्य जताते हुए कहा कि, वे अपनी जिंदगी के साथ ऐसा कैसे कर सकते हैं?

    नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बॉलीवुड हंगामा को दिए इंटरव्यू में कहा कि, 'सुशांत में भरपूर जिजिविषा थी. वह जन्म से ही बहुत बात करने वाला था. उसे लोगों से खुलकर बातचीत करना बहुत पसंद था. वह अपने शब्दों से अपने आस-पास मौजूद लोगों पर जादू कर सकता था. वह हर विषय पर बात करने की क्षमता रखता था. मेरी उससे कई बार मुलाकात हुई.'

    'हम और सुशांत दोनों एक-दूसरे को बहुत पसंद करते थे'
    सिद्दीकी ने कहा कि, हम और सुशांत दोनों एक-दूसरे को बहुत पसंद करते थे. मैं हर बार उससे मिलने के दौरान बहुत उत्साहजनक और पॉजिटिव महसूस करता था. इन्हीं सब अच्छे गुणों मुझे उसके असामयिक निधन पर विश्वास नहीं हो रहा था. समझ में नहीं आता कि सुशांत सिंह राजपूत अपने जीवन के साथ ऐसा कैसे कर सकता है? वह तो जिजिविषा और विचारों से भरा हुआ था.'

    सुशांत सिंह राजपूत के फिल्मों के सेलेक्शन के बारे में बात करते हुए नवाजुद्दीन ने आगे कहा कि, 'वह एक बड़ा स्टार था. उसने ब्लॉकबस्टर फिल्मों में काम करने की बजाए 'सोनचिड़िया' और 'डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी' जैसी फिल्में की. उसने अपने काम के प्रति समपर्ण दिखाया है. उसके लिए पैसा मायने नहीं रखता था.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज