ईशा गुप्ता को NCW ने जारी किया नोटिस, एक्ट्रेस ने ट्वीट कर स्मृति ईरानी से मांगी मदद

ईशा गुप्ता को NCW ने जारी किया नोटिस, एक्ट्रेस ने ट्वीट कर स्मृति ईरानी से मांगी मदद
ईशा गुप्ता

राष्ट्रीय महिला आयोग (National Commission for Women) ने एक्ट्रेस ईशा गुप्ता, मौनी रॉय, महेश भट्ट, उर्वशी रौतैला और प्रिंस नरूला सहित कुछ लोगों को कथित यौन उत्पीड़न और ब्लैकमेलिंग से संबंधित एक मामले में बयान दर्ज करवाने के लिए नोटिस जारी किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 7, 2020, 1:25 AM IST
  • Share this:
मुंबई. राष्ट्रीय महिला आयोग (National Commission for Women) ने एक्ट्रेस ईशा गुप्ता, मौनी रॉय, महेश भट्ट, उर्वशी रौतैला और प्रिंस नरूला सहित कुछ लोगों को कथित यौन उत्पीड़न और ब्लैकमेलिंग से संबंधित एक मामले में बयान दर्ज करवाने के लिए नोटिस जारी किया है. दरअसल, सामाजिक कार्यकर्ता योगिता भयाना ने अपनी शिकायत में आईएमजी वेंचर्स के प्रमोटर के खिलाफ आरोप लगाया है कि उसने मॉडलिंग में करियर बनाने का मौका देने के बहाने कई लड़कियों को ब्लैकमेल और यौन शोषण किया है.

NCW ने किए थे ये ट्वीट
राष्ट्रीय महिला आयोग ने ट्वीट कर बताया था कि कैसे महेश भट्ट, उर्वशी रौतेला, ईशा गुप्ता, रणविजय सिंह, मौनी रॉय, प्रिंस नरूला आदि को महिला आयोग ने बतौर गवाह अपना बयान दर्ज करने आने के लिए नोटिस भेजा था. इन स्टार्स में से एक भी वहां उपस्थित नहीं हुआ और ना ही किसी ने जवाब दिया. इसके चलते अब मीटिंग को 18 अगस्त को रखा गया है.
नोटिस मिलने पर ईशा गुप्ता ने ट्वीट कर लिखा, ''स्मृति ईरानी मैम, कृपया इसे स्पष्ट करने में मदद करें. एक सेलेब्रिटी होने का मतलब ये नहीं होता है कि हम इंसान नहीं है. मैं राष्ट्रीय महिला आयोग की नोटिस को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हूं. उन्हें लोगों की मदद करनी चाहिए न कि मीडिया विवाद पैदा करना चाहिए.''




वहीं, राष्ट्रीय महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने अपने ट्वीट में लिखा, ''निर्देश जारी करने के बावजूद आईएमजी वेंचर्स के प्रमोटर सनी वर्मा और उनके साथी ने आयोग के सामने अपनी उपस्थित दर्ज नहीं कराई. इन लोगों ने न तो जवाब देने की जहमत उठाई और न ही निर्धारित बैठक में भाग लिया है.''

एक और ट्वीट में रेखा शर्मा ने कहा, ''राष्ट्रीय महिला आयोग ने इनकी गैर-उपस्थिती को काफी गंभीरता से लिया है. अब ये बैठक 18 अगस्त को 11.30 बजे के लिए स्थगित कर दी गई है. इन लोगों को एक बार फिर से औपचारिक नोटिस भेजा जाएगा, अगली बार अगर ये अपनी उपस्थिति दर्ज नहीं कराते हैं तो हमारी प्रक्रियाओं के अनुसार इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज