विवियन रिचर्ड्स संग रिश्ते पर बोलीं नीना गुप्ता- मसाबा के मन में उसके पिता के लिए कभी...

बेटी मसाबा और विवि रिचर्ड के साथ नीना गुप्ता.

बेटी मसाबा और विवि रिचर्ड के साथ नीना गुप्ता.

जब नीना गुप्ता (Neena Gupta) ने बिना शादी किए बेटी मसाबा को जन्म दिया तो हर तरफ ये बात जंगल में आग की तरह फैल गई. उन दिनों नीना गुप्ता ने अपने पेरेंट्स, समाज और शुभचिंतकों के खिलाफ जाकर बेटी को जन्म देने का फैसला किया था.

  • Share this:

मुंबईः बॉलीवुड एक्ट्रेस नीना गुप्ता अक्सर अपने बेबाक अंदाज के चलते चर्चा में रहती हैं. नीना गुप्ता (Neena Gupta) अपनी फिल्मों के अलावा फिल्मी लाइफ को लेकर भी सुर्खियों में छाई रहीं. वेस्टइंडीज के दिग्गज क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स (Vivian Alexander Richards) संग प्यार करने और बिना शादी के मां बनने के कारण आज भी यह बात चर्चा में बनी रहती है. क्योंयि नीना गुप्ता और विवियन रिचर्ड्स की लव स्टोरी (Neena Gupta Vivian Richards Love Story) उन दिनों के हिसाब से बहुत बोल्ड और तहलका मचाने वाली थी.

जब नीना गुप्ता ने बिना शादी किए बेटी मसाबा को जन्म दिया तो हर तरफ ये बात जंगल में आग की तरह फैल गई. उन दिनों नीना गुप्ता ने अपने पेरेंट्स, समाज और शुभचिंतकों के खिलाफ जाकर बेटी को जन्म देने का फैसला किया था. अब नीना गुप्ता ने खुलकर विवियन रिचर्ड्स संग अपने रिश्ते पर बात की है.

एक्ट्रेस ने एक इंटरव्यू में इस बारे में बात करते हुए कहा- 'विवियन के लिए मेरे प्यार के चलते ही आज मेरी बेटी मसाबा इस दुनिया में है. प्यार कभी भी रातों-रात नफरत में नहीं बदल सकता. मैंने कभी भी अपनी बेटी के मन में उसके पिता को लेकर नफरत नहीं भरी, उन दोनों के बीच नहीं आई.' हालांकि, नीना गुप्ता की प्यार को लेकर राय थोड़ी अलग है. एक्ट्रेस के मुताबिक, सच्चा प्यार सिर्फ अपने बच्चों से हो सकता है. बाकियों की सिर्फ आदत होती है.

neena gupta
(photo credit: instagram/@neena_gupta)

बॉलीवुड बबल संग बातचीत में नीना गुप्ता ने कहा- 'मेरे पास मसाबा है क्योंकि मैंन विवियन से प्यार किया और जब आप किसी से प्यार करते हैं तो उससे नफरत नहीं कर सकते. चाहे आप साथ हों या ना हों फर्क नहीं पड़ता. ऐसा नहीं हो सकता कि आज प्यार और कल नफरत करने लगेंगे.'

मालूम हो कि आज-कल नीना गुप्ता अपनी ऑटोबायोग्राफी को लेकर भी चर्चा में हैं. नीना गुप्ता की बुक 'सच कहूं तो' (Sach Kahun Toh) का विमोचन 14 जून को होगा. नीना ने अपनी इस आत्मकथा में नई दिल्ली के राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (एनएसडी) में बिताए हुए दिनों से लेकर 1980 के दशक में मुंबई जाने तक के अपने संघर्ष के बारे में विस्तार से चर्चा की है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज