Home /News /entertainment /

O.P. Nayyar Birth Anniversary: ओ. पी. नय्यर को पसंद नहीं थी लता मंगेशकर की आवाज, सिंगर पर करते थे शक

O.P. Nayyar Birth Anniversary: ओ. पी. नय्यर को पसंद नहीं थी लता मंगेशकर की आवाज, सिंगर पर करते थे शक

लता मंगेशकर के साथ ओ. पी. नय्यर ने कभी काम नहीं किया.

लता मंगेशकर के साथ ओ. पी. नय्यर ने कभी काम नहीं किया.

ओ. पी. नय्यर की आज बर्थ एनिवर्सरी (O.P. Nayyar Birth Anniversary) है. वह बॉलीवुड के सबसे पॉपुलर म्यूजिक कंपोजर, सिंगर-सॉन्ग राइटर और म्यूजिक प्रोड्यूसर थे. उन्होंने कभी लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar Songs) के साथ काम नहीं. वह लता की आवाज को बहुत पतली मानते थे. उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि वह लता पर शक करते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    . पी. नय्यर (O. P. Nayyar Birth Anniversary) की आज बर्थ एनिवर्सरी है. ओ. पी नय्यर का पूरा नाम ओंकर प्रसाद नय्यर था. उनका जन्म पाकिस्तान के लाहौर में 16 जनवरी 1926 को हुआ था. वह बॉलीवुड के अबतक के सबसे पॉपुलर और चाहने वाले गीतकार थे. उन्हें बतौर फिल्म म्यूजिक कंपोजर, सिंगर-सॉन्ग राइटर और म्यूजिक प्रोड्यूसर माना जाता है. उन्होंने बॉलीवुड को कई सुपरहिट सॉन्ग दिए. उन्होंने उस दौर के हर सिंगर के साथ काम किया सिवाय एक पॉपुलर सिंगर को छोड़कर. वो सिंगर कोई और नहीं बल्कि लता मंगेशकर थीं.

    लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar Health Update) उस दौर की सबसे बेस्ट और पॉपुलर सिंगर मानी जाती थीं. लेकिन दोनों ने कभी भी साथ में काम नहीं किया जबकि ओ. पी. नय्यर और लता दोनों अपनी-अपनी कैटेगरी में टॉप पर थे. हर फिल्ममेकर और एक्टर-एक्ट्रेस चाहते थे कि ओ. पी. नय्यर और लता मंगेशकर उनके लिए साथ काम करें. लेकिन ऐसा नहीं हो पाया. इसे लेकर ओ. पी. नय्यर ने इसके बारे में इंटरव्यू में खुलासा किया है.

    लता की आवाज पसंद नहीं करते थे नय्यर

    ओ. पी. नय्यर ने संगीत सिनेमा को साल 2003 में दिए इंटरव्यू में कहा,”मैंने उन्हें कभी भी अपने किसी गाने के लिए नहीं बुलाया. मुझे एक पॉवरफुल, भरे गले, कामुक आवाज की जरूरत थी और उनके पास धागे जैसी पतली आवाज थी, जो मेरे म्युजिक के लिए बिल्कुल उपयुक्त नहीं थी. मुझे सुंदरता इंस्पिरेशन मिलती हैं. लता अपने सादे, साधारण रूप से मुझे संगीतकार के रूप में कभी इंस्पायर नहीं कर सकीं!”

    लता ने कई म्यूजिक कंपोजर को ऊंचाई पर पहुंचाया

    ओ. पी. नय्यर ने आगे कहा,”भले ही मैंने कभी लता के साथ काम नहीं किया, फिर भी मैं उन्हें भारत में नंबर एक सिंगर मानती हूं. आशा भोसले ने उनकी जगह लेने की बहुत कोशिश की लेकिन वो कभी हासिल नहीं कर सकीं. लता सर्वोपरि थी, ईश्वर ने उन्हें एक सुंदर आवाज दी है! लगभग किसी भी संगीतकार के साथ उनका काम – चाहे वह मदन मोहन, रोशन, एस.डी. बर्मन या शंकर- जयकिशन रहे हों, सबके साथ बेहतरीन रहे. जरा सोचिए मदन मोहन की गजलें शमशाद या कोई और गा रहा है. वे उतनी कलात्मक ऊंचाई तक नहीं पहुंचे होंगे जितनी उन्होंने लता की आवाज के साथ की थी.”

    लता मंगेशकर पर शक करते थे ओ. पी. नय्यर

    ओ. पी. नय्यर ने आगे कहा,”इन सबके बीच, हमारे बीच अच्छे रिलेशन थे लेकिन फिर भी मुझे उन पर शक था. मुझे याद है, एक बार उन्होंने मुझे लंच के लिए बुलाया और मैं पहले देख रहा था कि वह क्या खा रही है और फिर उनके बाद मैं भी वही खा रहा था!”

    Tags: Birth anniversary, Lata Mangeshkar

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर