अगर अक्षय कुमार मेरे सांसद होते, तो ऐसा होता उनका घोषणापत्र...

अक्षय कुमार (Akshay Kumar) दिल्ली की चांदनी चौक लोकसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं. ये खबर सामने आते ही ऐसे में पढ़िए देश के वोटर उनसे क्या-क्या उम्मीद लगा सकते हैं...

Sushant Mohan | News18Hindi
Updated: March 16, 2019, 4:15 PM IST
अगर अक्षय कुमार मेरे सांसद होते, तो ऐसा होता उनका घोषणापत्र...
अक्षय कुमार
Sushant Mohan | News18Hindi
Updated: March 16, 2019, 4:15 PM IST
जब से ये खबर सुनी है कि बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार दिल्ली की चांदनी चौक लोकसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं, मन में लड्डू फूट रहे हैं. नहीं ऐसा नहीं कि मैं उनका सबसे बड़ा फैन हूं. वो तो मैं सलमान खान का हूं. लेकिन असल बात ये है कि जिस सीट से उनके चुनाव लड़ने की बात आ रही है यानि चांदनी चौक, मैं वहां का वोटर हूं. अब अक्षय कुमार किसी पार्टी से खड़े हो जाएं ये उनका निजी मामला है. लेकिन बतौर संसदीय उम्मीदवार उनसे वोटर्स कितनी सारी उम्मीदें लगा सकते हैं. एक तो वो दिल्ली वाले हैं, उपर से इतने बड़े सुपरस्टार, सोशल मीडिया पर उनकी बातें और देशभक्ति और सामाजिक मुद्दों पर जागरुकता फैलाती उनकी फिल्में देखकर लगता है कि जिस दिन वो सांसद उम्मीदवार बने, वादे भी कुछ ऐसे करेंगे.

सुबह की फिटनेस

अक्षय कुमार के संसदीय क्षेत्र में रहने वाले लोगों की फिटनेस पर खूब काम होगा. वो इलाके के पार्कों की स्थिति सुधारने का दावा करेंगे और हर कॉलोनी में ओपन जिम खुलवाने की बात कर सकते हैं. खुद सुपरफिट रहने वाले अक्षय अपने क्षेत्र में साइकिल चलाने को प्रोत्साहन देंगे और हो सकता है कि वो फिटनेस प्रतियोगिता भी रखें जिसमें सुबह जल्दी उठने वाले, व्यायाम करने वालों को ईनाम मिले.



लाइब्रेरी और सिनेमा

अक्षय की पत्नी ट्विंकल खन्ना अब एक जानी मानी लेखिका बन चुकी हैं. हो सकता है कि अक्षय इलाके की लाइब्रेरी में बेहतर काम करवाएं और किताबें पढ़ने को प्रोत्साहन दें. अक्षय खुद फिल्मों के इतने बड़े सितारे हैं तो हो सकता है कि वो इलाके में सिनेमाघरों की स्थिति सुधारें और लोगो के लिए रंगमंच या एम्फिथिएटर का भी इंतजाम करवाएं.



समय की पाबंदी
Loading...

आमतौर पर सांसद से मिलने का समय बड़ी मुश्किल से मिलता है. अक्षय ये घोषणा कर सकते हैं कि वो अपने इलाके के निवासियों को तय शेड्यूल बना कर देंगे और समय के पाबंद अक्षय लोगों से मिलने के साथ साथ उनके काम भी टाइम से पूरे करने का वादा कर सकते हैं. वो ऐसा वादा इसलिए भी कर सकते हैं क्योंकि कई बार वो पत्रकारों को सुबह 4 से 5 बजे का इंटरव्यू टाइम देते हैं और यकीन मानिए, समय से आ भी जाते हैं.

महिला सुरक्षा और सेल्फ डिफेंस

अक्षय अक्सर सार्वजनिक मंचो पर महिलाओं को सेल्फ डिफेंस के गुर सिखाते नज़र आते हैं. उनके चुनावी मुद्दों में महिला सुरक्षा 100% रहेगा ही रहेगा और वो सेल्फ डिफेंस की क्लास भी देंगे. अक्षय अपने इलाके में लॉ एंड ऑर्डर को भी मज़बूत करने की बात करेंगे क्योंकि वो खुद भी नियम कानून के पक्के हैं.



सुरक्षाकर्मियों को तोहफा

अक्सर पुलिस, आर्मी या सीक्रेट सर्विस के अफसर के तौर पर नज़र आने वाले अक्षय कुमार के दिल में सुरक्षाकर्मियों के लिए काफी इज्जत है. वो अपने चुनावी वादे में सुरक्षाकर्मियों के लिए खास पैकेज या उनके लिए इलाके में खास छूट दे सकते हैं. अक्षय उनके साथ माहवार बैठक भी कर सकते हैं और उनके लिए विशेष आयोजन भी करवा सकते हैं.

इतनी सारी चीज़ों के बीच हो सकता है कि वो भी अन्य सांसदो की तरह बिज़ी हो जाएं और उनके दफ्तर जाकर काम नहीं भी बनें. तो भी क्या, स्टार के साथ सेल्फी तो हो ही जाएगी. बस समस्या ये है कि पता नहीं चल पाएगा कि वो चुनाव में खड़े हुए तो अक्षय कुमार ही रहेंगे या सांसद राजीव भाटिया कहलाएंगे...

ये भी पढ़ें- लोक सभा इलेक्शन के दौरान ही रिलीज होगी PM Narendra Modi की बायोपिक, हुआ तारीख का ऐलान
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...