पाञ्चजन्य ने आमिर पर किया हमला, कहा- ड्रैगन का प्यारा खान

आमिर खान.

पाञ्चजन्य ने आमिर के एक चीनी मोबाइल का विज्ञापन करने पर भी सवाल खड़े किए हैं. उसने आरोप लगाया है कि आमिर को दुश्मन देश के साथ दोस्ती बढ़ाने में कोई हर्ज नहीं दिखता.

  • Share this:
    मुंबई. तुर्की के राष्ट्रपति की पत्नी एमिन एर्दुगान से उनके घर जाकर मुलाकात के बाद से बॉलीवुड स्टार आमिर खान लोगों के निशान पर हैं. अब राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (आरएसएस) के मुखपत्र पाञ्चजन्य ने भी उन पर तीखा हमला किया है. अपने ताजा अंक में अखबार ने आमिर को ड्रेगन का प्यारा बताते हुए कहा है कि उन्होंने देश के लोगों की भावनाओं से खिलवाड़ किया है. अखबार ने सवाल उठाया है कि अपने देश में लाखों प्रशंसकों का प्यार पाने वाला कोई इंसान अगर उनके प्यार के बदले में पहले मजहब फिर देश की जिहादी सोच दिखाने लगे, दुश्मन देश के चंद पैसों पर कठपुतली सा चलने लगे या फिर दुश्मन देश की मेहमांनवाजी पूरी बेशर्मी से कुबूल करने लगे तोॽ क्या देशवासी खुद को ठगा हुआ महसूस नहीं करने लगेंगे. अखबार ने लिखा है कि आजकल चीन और तुर्की के चहेते बने आमिर खान की इन्हीं सब बातों को लेकर उनके प्रशंसकों के साथ ही, आम देशभक्त में भी ऐसा गुस्सा दिख रहा है.

    पाञ्चजन्य ने आमिर के एक चीनी मोबाइल का विज्ञापन करने पर भी सवाल खड़े किए हैं. उसने आरोप लगाया है कि आमिर को दुश्मन देश के साथ दोस्ती बढ़ाने में कोई हर्ज नहीं दिखता. फिर बात चाहे धोखेबाज चीन की हो या पाकिस्तान से हाथ मिलाकर भारत के खिलाफ जिहादी मंसूबे पाले बैठे तुर्की की, जहां आजकल आमिर खान ने डेरा डाला हुआ है. अखबार ने लिखा कि ऐसे देशों के साथ किसी फिल्मकार का खड़े होकर गर्व करना उसकी मंशा पर संदेह पैदा करता है. पाञ्चजन्य के मुताबिक जिस तरह से चीन में केवल आमिर खान की फिल्मों को प्रचारित-प्रसारित किया जाता है, उससे भी उनकी और ड्रैगन की नजदीकियों पर सवाल खड़े होते हैं.

    क्यों शूटिंग करने तुर्की गए
    अखबार ने लिखा है जिस तरह आमिर खान तुर्की जाकर भारतवासियों की भावनाओं को ठेंगा दिखा रहे हैं, उसे समझने की जरूरत है. आमिर खुद को इतना ही सेक्युलर मानते हैं तो वह तुर्की जाकर शूटिंग करने की क्यों सोच रहे है जबकि वह देश जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान का समर्थन कर रहा है. लोग आमिर का वह साक्षात्कार भूले नहीं हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि मेरी पत्नी किरण राव को भारत में डर लगता है. भारत में असहिष्णुता बढ़ गई है.

    यह भी पढ़ेंः कंगना रनौत के सपोर्ट में उतरीं सुशांत की बहन, एक्ट्रेस बोलीं- 'शुक्रिया दी...'

    आमिर और एमिन एर्दुगानी की मुलाकात इस्तांबुल स्थित राष्ट्रपति भवन हुबर मेंशन में हुई थी. बताया गया कि आमिर अपने पानी फाउंडेशन के बारे में एर्दुगानी से चर्चा करना चाहते थे. भेंट में दोनों के बीच भारत-तुर्की की संस्कृति-खान-पान और कलाओं के बारे में बातीचीत हुई. मगर पाञ्चजन्य का कहना है कि जब दोनों देशों के बीच आधिकारिक संबंधों में तनाव है तो फिर इन बातों को करने का क्या मतलब है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.