अपने फायदे के लिए इस्तेमाल हुआ #Metoo अभियान: मंदिरा बेदी

मंदिरा कहती हैं कि ईश्वर की कृपा से मुझे बहुत साल इस इंडस्ट्री में काम करते हुए हो गए लेकिन मेरे साथ कभी कोई ऐसा बर्ताव किसी ने नहीं किया.

शिखा धारीवाल | News18Hindi
Updated: May 20, 2019, 4:49 PM IST
शिखा धारीवाल | News18Hindi
Updated: May 20, 2019, 4:49 PM IST
छोटे पर्दे की शांति के नाम से मशहूर अभिनेत्री मंदिरा बेदी काफ़ी वक़्त से पर्दे से ग़ायब हैं. हालांकि वह हाल ही में निर्माता विवेक अग्निहोत्री की पॉलिटिकल किस्से पर बनी फ़िल्म 'द ताशकंद फ़ाइल्स' में एक छोटे से रोल में नज़र आई थीं. हाल ही में एरियल शेयर द लोड्स के इवेंट पर पहुंची अभिनेत्री मंदिरा बेदी ने न्यूज़ 18 हिंदी से हुई ख़ास बातचीत में बताया कि वह भले ही पर्दे से पिछले कुछ सालों से ग़ायब रही हों, लेकिन अब वह वेब सीरिज़ में लगातार काम कर रही हैं.

लोकसभा चुनावों के बीच अजय देवगन HIT करा ले गए फिल्म, कमाए इतने करोड़



मंदिरा बताती हैं कि फ़िलहाल उनके पास कई वेब सीरिज़ हैं. उसके अलावा फ़िल्में भी हैं तो जल्द ही वह पर्दे पर भी नज़र आएंगी. वेब सीरिज़ पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश कि अब वेबसीरिज़ के लिए भी नियम बनेंगे पर बातचीत करते हुए कहती हैं कि वेब सीरिज़ है तो इसका मतलब यह नहीं कि कुछ भी दिखा दें. पिछले दिनों जितनी बोल्डनेस और गाली गलौज वेब सीरिज़ में दर्शायी जा रही थी तो यह होना ही था. मंदिरा बातचीत को आगे बढ़ाते हुए कहती हैं कि मैं सुप्रीम कोर्ट के आदेश से सहमत हूं और कुछ गाइड लाइन वेब सीरीज़ के लिए भी ज़रूरी हैं.



मंदिरा से इस बातचीत के दौरान फ़िल्म इंडस्ट्री में आए बदलाव और इंडस्ट्री की राजनीति #Metoo अभियान पर भी चर्चा हुई. #Metoo अभियान पर बातचीत करते हुए मंदिरा कहती हैं कि #Metoo की तूफ़ानी आंधी बॉलीवुड में बेहद तेज़ी से आई और महिलाओं ने अपनी आप बीती कही. कई महिलाओं की आप बीती वाक़ई बहुत दुख भरी थी. महिलाओं को सम्मान मिलना उनका अधिकार है, लेकिन दुर्भाग्यवश उनके साथ ग़लत हुआ लेकिन अच्छी बात है कि उन्होंने अपनी बात रखी जिससे बात भी सामने आई और दूसरों के लिए भी उदाहरण बन गया कि अब इस फ़िल्म इंडस्ट्री में किसी महिला के साथ ऐसा बर्ताव करने की किसी की हिम्मत ना हो. मंदिरा कहती हैं कि, लेकिन यह एक साइड है इस #Metoo अभियान की एक दूसरी साइड यह भी है कि कुछ महिलाओं ने अपने फ़ायदे के लिए इसका इस्तेमाल किया है.

इस अभियान में कई लोग झूठे आरोपों के भी शिकार हुए हैं इसलिए यही कहूंगी कि #Metoo की आंधी बहुत तेज़ी से आई कुछ मामलों में वाक़ई आंख खोल गई तो कई लोग इस आंधी की चपेट में बिना वजह रहे.

विवेक ओबेरॉय ने शेयर की ऐश्वर्या की 'अपमानजनक' फोटो, सोशल मीडिया पर भड़का गुस्सा
Loading...

मंदिरा बातचीत को आगे बढ़ाती हुई कहती हैं कि ईश्वर की कृपा से मुझे बहुत साल इस इंडस्ट्री में काम करते हुए हो गए लेकिन मेरे साथ कभी कोई ऐसा बर्ताव किसी ने नहीं किया और अगर मेरे साथ कभी ऐसा होता तो मैं चुप नहीं बैठती. मैं आवाज़ उठाती और अपनी बात सबके सामने खुलकर रखती.
बॉलीवुड इंडस्ट्री के लोग सोशल मीडिया पर जिस तरह राजनीति और मुद्दों को लेकर एक्टिव हैं और एक दूसरे पर पलटवार करना नहीं चुकते.



इस सवाल पर अभिनेत्री मंदिरा अपनी बात रखते हुए कहती है कि मैं सोशल मीडिया पर राजनीतिक चर्चा को लेकर कभी एक्टिव नहीं रहती और ना ही मैं कोई कमेंट करूंगी क्योंकि राजनीतिक मामलों पर मैं चुप रहना बेहतर समझती हूं. जिस बात की और जिन मुद्दों के बारे में मुझे नहीं पता. उस बारे में बात करने से बेहतर चुप रहना है.
फ़िल्म, फ़िल्म इंडस्ट्री और राजनीतिक चर्चा के साथ साथ मंदिरा बेदी ने अपनी पर्सनल लाइफ़ पर भी खुलकर बातचीत में बताया कि उनके पिता बेहद अच्छे पति थे जो उनकी माँ के कामों में उनका हाथ बटाते थे और वहीं उनके पति भी शेयर द लोडस में विश्वास रखते हैं और उनकी ना सिर्फ़ घर के कामों में मदद करते हैं बल्कि  जब वह नाराज़ हो जाती हैं तो उनका टैम्पर ठंडा करने के उन्हें पति से स्पेशल ट्रीटमेंट भी मिलता है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...