जन्मदिन विशेषः कॉफी शॉप काम करके बॉलीवुड में पहुंचा एक्टर, दादी की पेंशन से करता था स्ट्रगल

जन्मदिन विशेषः कॉफी शॉप काम करके बॉलीवुड में पहुंचा एक्टर, दादी की पेंशन से करता था स्ट्रगल
सत्यजीत दुबे

बॉलीवुड फिल्म 'प्रस्थानम' (Prassthanam) में नजर आ चुके अभिनेता सत्यजीत दुबे (Satyajeet Dubey) ने एक एड फिल्म पाने के लिए 127 ऑडिशन्स तक दे डाले थे.

  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड अभिनेता सत्यजीत दुबे छत्तीसगढ़ के रहने वाले हैं. उनका जन्म 21 जुलाई 1990 को हुआ था. उनका मुंबई आना और बॉलीवुड में आने के लिए स्ट्रगल करने की कहानी अलहदा है. शाहरुख खान (Shahrukh Khan) के प्रोडक्शन हाउस तले शानदार डेब्यू करने के बावजूद भी उन्हें खुद को इंडस्ट्री में साबित करने में आठ साल लग गए. सत्यजीत ने एक इंटरव्यू में बताया कि वो 12 साल के थे जब उनके पिता का देहांत हो गया और यहां से उनकी जिंदगी का सफर और भी मुश्किल होता चला गया.

पेंशन के पैसे भेजती थीं दादी
सत्यजीत ने इस इंटरव्यू में बताया कि उन्हें दादी ने पाला है और हमेशा सपोर्ट भी किया है. सत्यजीत ने बताया मुंबई में स्ट्रगल के दिनों में दादी अपनी पेंशन से मुझे चार हजार रुपये भेजती थीं और इसी से मेरा खर्चा चलता था. उन्होंने कहा कि मैंने खुद भी कॉल सेंटर और कॉफी शॉप में नौकरी की है. सत्यजीत ने कई फैशन शोज में भी हिस्सा लेकर खुद का गुजारा किया.

127 ऑडिशन्स के बाद मिली एड फिल्म
अपने स्क्रीन डेब्यू की कहानी बताते हुए सत्यजीत ने कहा कि उन्होंने पहली बार स्क्रीन पर एपीयरेंस एक एड फिल्म में दी थी. हैरानी की बात तो ये है कि पहली एड फिल्म के लिए उन्हें 127 ऑडिशन्स देने पड़े तब जाकर उन्हें सेलेक्ट किया गया. उन्होंने कई टीवी शोज में भी काम किया लेकिन पहचान फिर भी नहीं मिल पाई. और तो और शाहरुख खान के प्रोडक्शन हाउस रेड चिलीज के बैनर तले बनी फिल्म 'ऑलवेज कभी कभी' सत्यजीत ने डेब्यू किया लेकिन ये फिल्म भी नहीं चल पाई.



दिलचस्प है 'प्रस्थानम' में आने का किस्सा
सत्यजीत दुबे ने फिर भी हिम्मत नहीं हारी. उन्हें नवाजुद्दीन सिद्दीकी, पंकज त्रिपाठी और इरफान खान जैसे कलाकारों से प्रेरणा मिली. सत्यजीत दुबे बताया कि 'प्रस्थानम' में उन्हें रोज बेहद इंटरेस्टिंग तरीके से मिला. सत्यजीत ने बताया कि 'संजय दत्त की पत्नी मान्यता मैडम ने फ्लाइट पर यात्रा करने के दौरान मेरी फिल्म 'कैरी ऑन कुत्तों' देखी और मेरी तलाश करवाई. इसके बाद मुझे ऑडिशन के लिए कॉल आया और आज मैं यहां हू.'

'बेटा' बुलाते हैं संजय दत्त
सत्यजीत दुबे ने ई टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में बताया था कि संजय दत्त के साथ उनकी बॉन्डिंग कैसी है. उन्होंने कहा, 'वो मुझे किसी अपने की तरह ही ट्रीट करते हैं. वो अपने मजाकिया अंदाज में कई गंभीर बातें भी सिखा जाते हैं. संजय दत्त कभी मुझे ब्रो बुलाते हैं तो कभी बेटा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज