प्रोड्यूसर रमेश तौरानी हुए वैक्सीनशन स्कैम का शिकार, 356 कर्मचारियों को नहीं मिला सर्टिफिकेट

रमेश तौरानी ने इस मामले को लेकर पुलिस से संपर्क किया है. फाइल फोटो

प्रोड्यूसर रमेश तौरानी (Ramesh Taurani) ने 29 मई और 3 जून तक अपने स्टाफ के लिए एक वैक्सीन प्रोग्राम आयोजित किया था. जहां पर उनके स्टाफ के सभी मेंबर को कोरोना की वैक्सीन लगाई गई. लेकिन अब तक किसी को भी वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट नहीं मिला है.

  • Share this:
मुंबई. मुंबई में वैक्सीनेशन के नाम पर बड़ा फर्जीवाड़ा (Vaccination Scam) सामने आया है और बॉलीवुड के मशहूर प्रोड्यूसर रमेश तौरानी (Ramesh Taurani) इसके शिकार हुए हैं. हाल ही में उन्होंने प्रोडक्शन हाउस में काम करने वाले 356 कर्मचारियों का वैक्सीनेशन करवाया था. लेकिन कई दिन बीत जाने के बाद अब तक उनके किसी भी कर्मचारी को वैक्सीन सर्टिफिकेट (Vaccine Certificate) नहीं मिल पाया है. रमेश तौरानी को इस मामले पर शक हुआ, जिसके बाद उन्होंने पुलिस से संपर्क किया है.

दरअसल, प्रोड्यूसर रमेश तौरानी (Ramesh Taurani) ने 29 मई और 3 जून तक अपने स्टाफ के लिए एक वैक्सीन प्रोग्राम आयोजित किया था. जहां पर उनके स्टाफ के सभी मेंबर को कोरोना की वैक्सीन लगाई गई. लेकिन अब तक किसी को भी वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट नहीं मिला है. उन्होंने बताया कि इस मामले पर जब हमारे स्टाफ के लोगों ने उनसे संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि 12 जून तक हमें सर्टिफिकेट मिल जाएंगे, लेकिन आज तक किसी को नहीं मिला.



उन्होंने बताया कि हमने 356 लोगों का वैक्सीनेशन करवाया है. जबकि 1200 रुपये और जीएसटी के हिसाब से पैसे दिए हैं. लेकिन पैसों से ज्यादा हमें चिंता इस बात की है कि हमें सही कोविशिल्ड दवा दी गई है या कोई सेलाइन पानी?

उन्होंने बताया कि हमें बताया गया था कि वैक्सीन सर्टिफिकेट कोकिलाबेन अस्पताल से मिलेगा. ओशिवारा पुलिस ने इस प्रोडक्शन हाउस से संपर्क किया है. इसके बाद में ये मामला वर्सोवा पुलिस को दे दिया गया और फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.