नेपोटिज्म पर बोले आर बाल्की- मुझे आलिया-रणबीर से बेहतर एक्टर बताएं, हम...

नेपोटिज्म पर बोले आर बाल्की- मुझे आलिया-रणबीर से बेहतर एक्टर बताएं, हम...
फिल्ममेकर आर बाल्की ने नेपोटिज्म पर अपनी राय रखी.

फिल्ममेकर आर बाल्की (Filmmaker R Balki) ने कहा कि मैं मानता हूं कि किसी बाहरी व्यक्ति के लिए फिल्मों में एंट्री करना ज्यादा मुश्किल है लेकिन ये भी सच है कि प्रतिभा को मौका मिलता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 17, 2020, 10:23 AM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड (Bollywood) एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन के बाद से सोशल मीडिया (Social Media) पर जो नेपोटिज्म (Nepotism) की बहस शुरू हुई वो थमने का नाम नहीं ले रही हैं. फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म, इंसाइडर्स वर्सेज आउटसाइडर्स की डिबेट तेज हो गई है. इसके मद्देनजर कई सेलेब्स को ट्रोल भी किया जा रहा है. सोशल मीडिया पर शुरू हुई इस बहस में कई सेलेब्स ने भी अपनी हामी भरते हुए इस मसले पर अपनी राय रखी. हाल ही में इस मामले पर जाने-माने फिल्ममेकर आर बाल्की (Filmmaker R Balki) ने अपनी राय रखी है.

बॉलीवुड में नेपोटिज्म (Nepotism) पर जहां लोग चर्चा कर रहे हैं, वहीं फिल्ममेकर आर बाल्की (Filmmaker R Balki)का कहना है कि कई बार लोग इस विषयों पर केवल मनोरंजन के उद्देश्य से चर्चा करते हैं. हिंदुस्तान टाइम्स की एक खबर के मुताबिक, उन्होंने कहा कि ऐसी चर्चा वास्तविक चर्चा नहीं हैं.

उन्होंने कहा कि ये तो समाज के हर वर्ग में देखने को मिलता है, बिजनेस मैन अपने व्यापार को अपने बेटों को सौंपते हैं. ड्राइवर या सब्जी बेचने वाला भी अपने बच्चों को अपना बिजनेस सौंपता है. यह एक मूर्खतापूर्ण तर्क है. उन्होंने कहा कि हमें ये याद रखना चाहिए कि हम एक स्वतंत्र समाज में रहते हैं. ऐसे में सवाल ये है कि सवाल ये है कि स्टार किड को गलत या ज्यादा फायदा मिलता है कि नहीं.



आर बाल्की ने इस बातचीत में आगे कहा कि सवाल यह है कि क्या वे (स्टार किड्स) अनुचित या बड़ा फायदा उठाते हैं? लेकिन मैं एक साधारण सवाल पूछता हूं.
मुझे आलिया भट्ट या रणबीर कपूर से बेहतर अभिनेता खोजें और हम बहस करेंगे. यह उन कुछ लोगों पर अनुचित है जो शायद कुछ बेहतरीन अभिनेताओं में से हैं.

उन्होंने उन लोगों पर निशाना साधा जो सोशल मीडिया पर आलिया और उनके पिता को निशाना बना रहे हैं. फिल्ममेकर ने कहा कि आलिया की प्रतिभा का जश्न मनाने के बजाय, लोग उसके बारे में फिल्म निर्माता पिता की बेची होने की बात करते हैं.

ये भी पढ़ें-  एक्टर अमित साध ने किया खुलासा बोले- '16 साल की उम्र में आते थे सुसाइड के ख्याल'

आर बाल्की ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि कभी-कभी दर्शक स्क्रीन पर स्टार किड्स भी देखना चाहते हैं. यह केवल पहला मौका है जो उन्हें मिलता है. इसके बाद उन्हें अपने काम से लोगों के दिलों में जगह बनानी पड़ती हैं. उन्होंने कहा कि मैं मानता हूं कि किसी बाहरी व्यक्ति के लिए फिल्मों में एंट्री करना ज्यादा मुश्किल है लेकिन ये भी सच है कि प्रतिभा को मौका मिलता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading