• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • राज कुंद्रा पोर्नोग्राफी केस में हुए गिरफ्तार, दोषी पाए जाने पर जेल में गुजारने होंगे इतने साल

राज कुंद्रा पोर्नोग्राफी केस में हुए गिरफ्तार, दोषी पाए जाने पर जेल में गुजारने होंगे इतने साल

राज कुंद्रा को पॉर्नोग्राफी मामले में गिरफ्तार किया गया है. फोटो साभार: @RajKundra

राज कुंद्रा को पॉर्नोग्राफी मामले में गिरफ्तार किया गया है. फोटो साभार: @RajKundra

मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच (Mumbai Police Crime Branch) टीम ने सोमवार की रात को राज कुंद्रा (Raj Kundra) को गिरफ्तार किया है. जिसके बाद अब इस बात पर भी चर्चा शुरू हो गई है कि अगर वह इस मामले में दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें क्या और कितनी सजा मिल सकती है.

  • Share this:
    मुंबईः शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा (Raj Kundra) की गिरफ्तारी की खबर चारों ओर फैल चुकी है. कुंद्रा के खिलाफ इसी साल फरवरी में केस दर्ज करवाया गया था. एक्ट्रेस के पति को पोर्नोग्राफी और मोबाइल एप्लीकेशन के जरिए अश्लील कंटेंट (Pornography) बेचने के संगीन आरोप में गिरफ्तार किया गया है. मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने सोमवार की रात को राज कुंद्रा को गिरफ्तार किया है. जिसके बाद अब इस बात पर भी चर्चा शुरू हो गई है कि अगर वह इस मामले में दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें क्या और कितनी सजा मिल सकती है.

    बता दें, पोर्नोग्राफी केस में अगर राज कुंद्रा दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें लंबा समय जेल में गुजारना पड़ सकता है. क्योंकि पोर्नोग्राफी को लेकर हमारे देश का कानून काफी सख्त है. पोर्नोग्राफी के मामले में आईटी एक्ट के साथ ही आईपीसी की कई धाराओं के तहत आरोपी के खिलाफ मामला लिखा जाता है. वहीं, देश में तकनीक और इंटरनेट की बढ़ती पहुंच के साथ ही आईटी एक्ट में संशोधन भी किया गया है.

    एंटी पॉर्नोग्राफी लॉ
    इंटरनेट के चलते तेजी से पॉर्नोग्राफी का धंधा अपने पैर पसार रहा है. इंटरनेट के चलते ही पॉर्नोग्राफी एक बड़ा कारोबार बनती जा रही है. जिसे मोबाइल ऐप्स, सोशल मीडिया के जरिए बेचा जा रहा है. इसमें ऐसे कंटेंट आते हैं, जिनमें वीडियो, टेक्स्ट, ऑडियो, फोटोज और अन्य तरीकों से यौन कृत्य पर आधारित होते हैं. इन कृत्यों को बेचने, इस व्यवसाय में संलग्न होने या फिर इसे प्रकाशित करने की कोशिश करते पाए जाने पर एंटी पॉर्नोग्राफी लॉ के तहत पहली बार दोषी पाए जाने पर सजा का प्रावधान है.

    आईटी एक्ट और IPC के तहत सजा का प्रावधान
    आईटी कानून (संशोधित) 20098 की धारा 67ए और आईपीसी की धारा 292, 293, 294, 500, 506 व 509 के तहत पांच साल तक की सजा या 10 लाख तक के जुर्माने का प्रावधान है. लेकिन, दूसरी बार पकड़े जाने पर सजा 7 साल तक बढ़ सकती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज