• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • Raj Kundra Case: राज कुंद्रा की जमानत अर्जी पर सोमवार को सुनवाई करेगा बॉम्बे हाईकोर्ट

Raj Kundra Case: राज कुंद्रा की जमानत अर्जी पर सोमवार को सुनवाई करेगा बॉम्बे हाईकोर्ट

कुंद्रा ने हाईकोर्ट में अपनी गिरफ्तारी को चुनौती दी है.(Photo @rajkundra9/Instagram)

कुंद्रा ने हाईकोर्ट में अपनी गिरफ्तारी को चुनौती दी है.(Photo @rajkundra9/Instagram)

राज कुंद्रा (Raj Kundra) के वकील ने कहा कि, 'पुलिस ने 4000 पेज की चार्ज शीट में आरोपी के किसी भी सेक्सुअल कार्य को कराने का स्पष्ट रूप से जिक्र नहीं किया है. कोई भी ऐसा वीडियो नहीं है जिसे धारा 67 ए के तहत अवैध ठहराया जा सके. शेष जो भी धाराएं लगाई गई हैं, उनमें जमानत हो सकती है.'

  • Share this:
    मुंबई. पोर्न फिल्म बनाने और उसे ऐप के जरिए प्रसारित करने के आरोप में पुलिस हिरासत में पहुंच चुके बिजनेसमैन और शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा (Raj Kundra) ने बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) का दरवाजा खटखटाया है. कुंद्रा ने हाईकोर्ट में अपनी गिरफ्तारी को चुनौती दी है. उन्होंने कहा है कि उनकी गिरफ्तारी अवैध है. टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार, राज कुंद्रा के वकील सुभाष जादव ने शुक्रवार को कहा कि उनके मुवक्किल की गिरफ्तारी अवैध है और एक भी वीडियो को पोर्नोग्राफिक नहीं कहा जा सकता है.

    वकील ने आगे कहा कि, 'पुलिस ने अपनी 4000 पेज की चार्ज शीट में आरोपी के किसी भी सेक्सुअल कार्य को कराने का स्पष्ट रूप से जिक्र नहीं किया है. कोई भी ऐसा वीडियो नहीं है जिसे धारा 67 ए के तहत अवैध ठहराया जा सके. इसके अलावा कुंद्रा पर जो भी धाराएं लगाई गई हैं, उनमें जमानत हो सकती है.'

    राज कुंद्रा पर आईपीसी की धारा 420 (धोखाधड़ी), धारा 34 (सामान्य इरादा), धारा 292 और धारा 293 (अश्लील और अश्लील विज्ञापन और प्रदर्शन संबंधी) और आईटी अधिनियम की धाराओं और महिलाओं के अश्लील प्रतिनिधित्व कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है.

    बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मामले में 19 जुलाई (सोमवार) रात को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस के मुताबिक उनका संबंध अश्लील सामग्री बनाने और कुछ ऐप के जरिए ऐसे कंटेंट को प्रसारित करने से है. कुंद्रा को मंगलवार को अदालत में पेश किया गया, कोर्ट ने उन्हें 23 जुलाई तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया था.

    हाल ही अदालत ने उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया और उनकी पुलिस हिरासत की अवधि 27 जुलाई तक के लिए बढ़ा दी. क्राइम ब्रांच अधिकारियों ने यह भी आशंका जताई है कि वियान इंडस्ट्रीज से प्राप्त आय का प्रयोग ऑनलाइन सट्टेबाजी के लिए किया जा सकता है. इस मामले में अब तक 11 लोगों की गिरफ्तारी की गई है. साथ ही अपराध शाखा ने विभिन्न ऐप संचालकों से 7.5 करोड़ रुपये की राशि भी जब्त की है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज