Home /News /entertainment /

राज कुंद्रा की मुश्किलें बढ़ीं, वियान इंडस्ट्रीज के 4 कर्मियों ने मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज कराए बयान

राज कुंद्रा की मुश्किलें बढ़ीं, वियान इंडस्ट्रीज के 4 कर्मियों ने मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज कराए बयान

चारों कर्मचारियों ने मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज कराए हैं. (फोटो साभारः Instagram/rajkundra9)

चारों कर्मचारियों ने मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज कराए हैं. (फोटो साभारः Instagram/rajkundra9)

वियान इंडस्ट्रीज (Viaan Industries) के जो 4 कर्मचारी सरकारी गवाह बने हैं, उसमें एक एकाउंटेंट, एक फाइनेंस ऑफिसर और दो कर्मचारी टेक्निकल टीम के सदस्य हैं. सरकारी वकील ने कोर्ट को बताया था कि इस मामले में 9 आरोपियों के खिलाफ 3 अप्रैल को कोर्ट में चार्जशीट पेश की गई थी.

अधिक पढ़ें ...

मुंबई. अश्लील फिल्मों का निर्माण करने और उन्हें ऐप के माध्यम से प्रसारित करने के आरोपों में गिरफ्तार हुए बिजनेसमैन राज कुंद्रा (Raj Kundra) की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं. उनकी कंपनी वियान इंडस्ट्रीज में काम करने वाले 4 कर्मचारी सरकारी गवाह बन गए हैं. गवाह बने इन चारों कर्मचारियों ने पहले पुलिस को बयान दिए थे, लेकिन शुक्रवार को इन कर्मचारियों ने मजिस्ट्रेट के सामने अपने बयान दर्ज करा दिए. सूत्रों ने जानकारी दी है कि इन चारों कर्मचारियों ने मामले की जांच कर रही मुंबई क्राइम ब्रांच (Mumbai Crime Branch) की मौजूदगी में मजिस्ट्रेट के सामने अपने बयान दर्ज कराए हैं.

वियान इंडस्ट्रीज के जो 4 कर्मचारी सरकारी गवाह बने हैं, उसमें एक एकाउंटेंट, एक फाइनेंस ऑफिसर और दो कर्मचारी टेक्निकल टीम के सदस्य हैं. सरकारी वकील ने कोर्ट को बताया था कि इस मामले में 5 फरवरी 2021 को मुंबई के मालवानी पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई और फिर इस केस को क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया.

इसके बाद 9 आरोपियों के खिलाफ 3 अप्रैल को कोर्ट में चार्जशीट पेश की गई. अरुणा पई ने कहा कि राज कुंद्रा और आईटी हेड रेयान थोर्पे (Ryan Thorpe) दोनों आरोपी गंभीर अपराध में शामिल थे. दोनों आरोपी वीडियो बनाकर हॉटशॉट्स ऐप (Hotshots App) और बॉलीफेम ऐप (BollyFame App) स्ट्रीमिंग के लिए अपलोड कर देते थे. इन दोनों ऐप से 51 पोर्नोग्राफी मूवी जब्त की जा चुकी हैं.

सरकारी वकील ने कोर्ट को बताया था कि, दोनों के पर्सनल लैपटॉप और सैन डिवाइस जब्त की जा चुकी हैं. 19 जुलाई को राज और रेयान के सामने उनके ऑफिस की तलाशी ली गई थी, जिसमें हॉटशॉट्स ऐप पर कुंद्रा के बहनोई प्रदीप बक्शी को भेजी गई एक मेल मिली. बक्शी यूके में केनरिन प्राइवेट लिमिटेड का मालिक है. राज कुंद्रा को गिरफ्तारी से पहले सीआरपीसी के 41A के तहत नोटिस दी गई थी, लेकिन उन्होंने इसे स्वीकार करने से इनकार कर दिया. नोटिस में राज से जांच में सहयोग करने को कहा गया तो वे व्हाट्सऐप चैट और सबूतों को मिटाने लगे थे.

Tags: Mumbai police, Raj kundra, Raj Kundra Case

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर