लाइव टीवी

सुपरस्टार रजनीकांत का बड़ा बयान- मुझे ‘भगवा’ रंग में रंगने की कोशिश हो रही है

भाषा
Updated: November 9, 2019, 10:26 AM IST
सुपरस्टार रजनीकांत का बड़ा बयान- मुझे ‘भगवा’ रंग में रंगने की कोशिश हो रही है
रजनीकांत

दक्षिण भारतीय सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) ने अपनी राजनैतिक पारी को लेकर फिर से टिप्पणी की है. उन्होंने अब खुद को लेकर नये खुलासे किए हैं.

  • Share this:
चेन्नई. सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा ने उन्हें पार्टी में शामिल होने का आमंत्रण नहीं दिया है लेकिन उन्हें “भगवा’’ रंग में रंगने के पूरे प्रयास किये जा रहे हैं. उन्होंने मीडिया और “कुछ लोगों” पर ऐसे प्रयास करने का आरोप लगाया. भाजपा (BJP) ने बयान दिया है कि पार्टी ने कभी ऐसा कोई दावा नहीं किया कि अभिनेता पार्टी में शामिल होने के लिए तैयार हैं. उधर, द्रमुक (DMK) ने बयान दिया कि अभिनेता अपने बयान से किसके भगवा रंग से रंगे होने के संकेत दे रहे हैं?

दिग्गज अभिनेता ने हालिया तिरुवल्लुवर विवाद का जिक्र करते हुए कहा कि उन्हें और प्रसिद्ध संत-कवि तिरुवल्लुवर दोनों को ‘भगवा’ रंग में रंगने का प्रयास किया जा रहा है.

वरिष्ठ भाजपा नेता पोन राधाकृष्णन से हाल ही में हुई मुलाकात और उनके भाजपा में शामिल होने को लेकर पूर्व में दिए गए बयान के बारे में सवाल पूछा गया तो रजनीकांत ने कहा कि ऐसा कोई आमंत्रण उन्हें नहीं मिला है.

यह भी पढ़ेंः Bigg Boss 13: आरती के लिए सिद्धार्थ शुक्ला पर भड़के कृष्णा अभिषेक, कही- ये बात

उन्होंने कहा ' कोई प्रस्ताव नहीं मिला है (भाजपा की ओर से पार्टी में शामिल होने के लिए)..बिल्कुल नहीं' एक ठहाका लगाते हुए उन्होंने कहा ' मुझे भाजपा के रंग में रंगने के प्रयास किए जा रहे हैं... तिरुवल्लुवर की तरह ही मुझे भी भगवा रंग में रंगने का प्रयास किया जा रहा है...न तो तिरुवल्लुवर और न ही मैं इसमें फसूंगा.'

संवाददाताओं द्वारा दोबारा पूछने पर रजनीकांत ने कहा ‘‘कुछ लोग, कुछ मीडिया... वे मुझे भाजपा समर्थक के रूप में भगवा रंगने की कोशिश कर रहे हैं.’’ यह पूछे जाने पर कि मीडिया या भाजपा, किसने उन्हें भगवा रंग में रंगने की कोशिश की? तो उन्होंने कहा ‘कुछ व्यक्ति.’

गौरतलब है कि एक नवंबर को भाजपा की तमिलनाडु इकाई ने अपने ट्विटर हैंडल पर तिरुवल्लुवर की रचना 'थिरुक्कुरल' का एक दोहा लिखा था जिसमें भगवान की पूजा नहीं करने पर शिक्षा के उपयोग पर सवाल उठाया गया था. दोहे को टैग करते हुए, भगवा पार्टी ने कथित रूप से लोगों की आस्था को नुकसान पहुंचाने के लिए द्रविड़ कड़गम, द्रमुक और वामपंथी दलों पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि “उनकी शिक्षा का क्या उपयोग है?”
Loading...

पार्टी ने अपने माथे पर पवित्र भभूत लगाए भगवा वस्त्र में तिरुवल्लुवर की तस्वीर पोस्ट की थी. इस मुद्दे के साथ भाजपा, द्रमुक और अन्य विपक्षी दलों के बीच तनातनी चल रही थी.

यह भी पढ़ेंः KBC से 1 करोड़ जीत सकती थीं सुषमा, तक्षक नाग ने ऐसा 'डसा', 2 लाइफलाइन रहते बाहर

इस प्रकरण के बारे में पूछे जाने पर अभिनेता ने कहा कि मीडिया ने इसे बड़ा बना दिया, जो मूर्खतापूर्ण है. तिरुवल्लुवर धर्म और जाति की सीमाओं से परे एक संत थे. रजनीकांत के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए, भाजपा ने कहा कि किसी से मिलना उसका लोकतांत्रिक अधिकार है.

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव पी मुरलीधर राव ने कहा अगर कोई पार्टी में शामिल होने में दिलचस्पी रखता है तो उसे जरुर आमंत्रित किया गया है. तमिलनाडु सहित देश की कई हस्तियां और प्रतिष्ठित व्यक्ति पार्टी में शामिल हो रहे हैं. यह बात स्पष्ट हो जानी चाहिए कि हमने रजनीकांत के पार्टी में शामिल होने या उनके इच्छुक होने की बात कभी नहीं कही. भाजपा को ऐसे कयासों में कोई दिलचस्पी नहीं है.

द्रमुक के कोषाध्यक्ष दुरई मुरुगन ने सुपरस्टार की टिप्पणी के जवाब में कहा कि यह रजनीकांत की व्यकितिगत राय है कि उन्हें भाजपा के एक व्यक्ति के रूप में चित्रित करने का प्रयास किया जा रहा है. हमें नहीं पता कि रजनीकांत इस बात से क्या संकेत देना चाहते हैं.

यह भी पढ़ेंः रानू मंडल ने फैन पर किया गुस्सा, अब मीडिया के सवालों को किया अनसुना

इस बीच आर्थिक मंदी पर सवाल के जवाब में रजनीकांत ने कहा कि सरकार को इससे निपटने के लिए हरसंभव प्रयास करना चाहिए. नोटबंदी के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि इस पर वह अपनी राय बहुत समय पहले दे चुके हैं.

गौरतलब है कि पिछले वर्ष उन्होंने नोटबंदी को सरकार का गलत कदम बताया था. उच्चतम न्यायालय में लंबित रामजन्म भूमि मामले पर पूछने पर उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की.

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि राज्य में शक्तिशाली नेतृत्व की कमी है. यही टिपण्णी उन्होंने वर्ष 2016 में जे जयललिता (Jayalalitha) और 2018 में द्रमुक अध्यक्ष करुणानिधि (M Karunanidhi) के निधन पर की थी. द्रमुक ने रजनीकांत के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि उनकी पार्टी के नेता एमके स्टालिन पहले से ही उस उचित नेतृत्व की कमी को पूरा कर चुके हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बॉलीवुड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 10:26 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...