अपना शहर चुनें

States

मंद्रम के नेताओं के साथ चर्चा करेंगे रजनीकांत, कर सकते हैं राजनीति में उतरने की घोषणा!

सुपरस्टार रजनीकांत.
सुपरस्टार रजनीकांत.

एक्टर के निवास राघवेंद्र कल्याण मंडपम में होने वाली बैठक में दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) अपने मोर्चे रजनी मक्कल मंद्रम के जिला सचिवों के साथ विचार-विमर्श करेंगे. तमिलनाडु में 2021 के अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2020, 6:26 AM IST
  • Share this:
चेन्नई. राजनीति में ताल ठोंकने को लेकर साउथ इंडियन फिल्मों के फेमस एक्टर रजनीकांत (Rajinikanth) सोमवार को अपने मोर्चे के पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे. हालांकि, कुछ समय पहले ही डॉक्टरों ने उन्हें स्वास्थ्य कारणों से राजनीति में सक्रिय नहीं होने की सलाह दी थी. एक्टर के निवास राघवेंद्र कल्याण मंडपम में होने वाली बैठक में रजनीकांत अपने मोर्चे रजनी मक्कल मंद्रम के जिला सचिवों के साथ विचार-विमर्श करेंगे.

करीब एक महीने पहले रजनीकांत ने कहा था कि वह उचित समय पर मंद्रम के पदाधिकारियों के साथ चर्चा करके अपने राजनीतिक रुख के बारे में लोगों को जानकारी देंगे. तमिलनाडु में 2021 के अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं.

बैठक के एजेंडा को लेकर सूत्रों ने संकेत दिया कि जैसा कि रजनीकांत ने खुद ही कहा था कि वे पदाधिकारियों से चर्चा के बाद अपना रुख साफ करेंगे, ऐसे में बैठक के बाद इस संबंध में अहम घोषणा होने की उम्मीद है. उल्लेखनीय है कि मंद्रम के गठन को तमिलनाडु के विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक पार्टी में तब्दील करने के लिए पहले से बनाई गई संस्था के तौर पर देखा गया था.



70 साल के रजनी को वायरस संक्रमण का खतरा अधिक
इससे पहले मीडिया में आए एक ‘बयान’ में कहा गया था कि डॉक्टरों ने उनसे कहा है, ‘अब आप 70 साल के हो गए हैं. किडनी प्रतिरोपण के कारण दूसरों की तुलना में आपके शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र थोड़ा कमजोर हो गया है, इसलिए आपको कोरोना वायरस से संक्रमित होने का काफी खतरा है.’

इन पहलुओं को देखते हुए डॉक्टरों ने रजनीकांत को महामारी के दौर में राजनीति से दूर रहने की सलाह दी थी. ‘बयान’ में कहा गया था कि उन्होंने किडनी से संबंधित दिक्कतों के समाधान के लिए 2011 में सिंगापुर के एक अस्पताल में इलाज कराया था और बाद में मई 2016 में अमेरिका के एक अस्पताल में किडनी प्रतिरोपण कराया. एक्टर द्वारा ‘मंद्रम’ संगठन की शुरुआत को राजनीति में प्रवेश से पहले की तैयारी के तौर पर देखा गया था. एक्टर ने कहा था कि वह तमिलनाडु में राजनीतिक क्रांति लाना चाहते हैं और मुख्यमंत्री बनने की उनकी इच्छा नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज