शो मैन राज कपूर की डेथ एनिवर्सरी पर नीतू कपूर का पोस्ट वायरल, देखें Unseen Video

नीतू कपूर ने शेयर की राज कपूर की यादें. (फोटो साभार : neetu54/Instagram)

राजकपूर (Raj Kapoor ) की 33वीं पुण्यतिथि (Death Anniversary) पर नीतू कपूर (Neetu Kapoor) ने एक थ्रोबैक वीडियो शेयर किया है जिसमें शो मैन अपने करियर और फिल्मों के बारे में बात कर रहे हैं.

  • Share this:
    मुंबई: हिंदी फिल्म जगत के शोमैन राज कपूर (Raj Kapoor ) 2 जून 1988 को दुनिया को अलविदा कह गए थे. राज कपूर ने बॉलीवुड में कई तरह के प्रयोग किए थे. लीजेंड एक्टर-प्रोड्यूसर राज कपूर के जाने के इतने बरसों बाद भी फिल्म इंडस्ट्री में उनकी जगह आज तक कोई नहीं ले पाया है. राज कपूर को यूं तो पूरी दुनिया याद करती है, लेकिन उनकी बहू और दिवंगत एक्टर ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) की बीवी नीतू कपूर (Neetu Kapoor) ने अपने ससुर को याद करते हुए एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में राजकपूर अपनी फिल्मों और जीवन की सफलता-असफलता के बारे में बात कर रहे हैं.

    नीतू कपूर खुद एक शानदार एक्ट्रेस रह चुकी हैं. अपने पति और ससुर से उन्होंने बहुत कुछ सीखा भी है. नीतू ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पुराना वीडियो शेयर किया है जिसमें राजकपूर अपनी सफलता और जीवन के अनुभव पर बोल रहे हैं. इस वीडियो में राजकपूर बता रहे हैं कि ‘जाने कहां गए वो दिन...जो मैं बनना चाहता था अभी भी वहां तक पहुंच नहीं पाया हूं....मैं नहीं चाहता हूं कि जब मैं अपना रोल प्ले कर रहा हूं उसी समय ईश्वर मुझे उठा लें. समय आपको हमेशा सिखाता है. ऊपर वाले ने जो कुछ भी दिया है उसके लिए आभारी रहना चाहिए.

    राजकपूर आगे कहते हैं ‘समय बहुत कम है. लगातार चलते रहना ही जिंदगी है. यह दुनिया ‘हाउस ऑफ हार्ट ब्रेक’ है. आप सफल हैं तो आपके आस-पास के लोग ही आपको नीचा दिखाने और टांग खींचने की कोशिश करते हैं. आप अपने जीवन में आने वाले स्ट्रगल के बावजूद चलते रहते हैं तो सभी मुश्किलों से पार पा जाते हैं’. नीतू कपूर के इस वीडियो पोस्ट पर उनकी बेटी रिद्धिमा कपूर साहनी ने भी प्यार जताया है. कई फैंस ने लिखा ‘सही मायने में राजकपूर ही फिल्म इंडस्ट्री के सच्चे शोमैन थे’.




    बता दें कि राजकपूर अक्सर कर्म और फिलॉसफी पर बात किया करते थे. राजकपूर ने सन 1947 में फिल्म ‘मधुसूदन’ से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा और ‘आशियाना’, ‘दास्तान’, ‘श्री 420’, ‘दिल ही तो है’, ‘मेरा नाम जोकर’  जैसी फिल्में हिंदी सिने जगत को दी हैं.