राजकुमार ने अपने कुत्ते से कराई थी रामानंद सागर की घोर-बेइज्जती, जीवनभर साथ नहीं किया काम

अभिनेता राजकुमार
अभिनेता राजकुमार

रामानंद सागर (Ramanand Sagar) और राजकुमार (Rajkumar) का ये किस्सा फिल्म 'आंखे' से जुड़ा है. इस फिल्म के हीरो धर्मेंद्र थे. लेकिन धर्मेंद्र से पहले सागर इस फिल्म में अपने दोस्त राजकुमार को साइन करना चाहते थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 8, 2020, 1:20 PM IST
  • Share this:
मुंबई. 'जानी! ये बच्चों के खेलने की चीज़ नहीं है, हाथ कट जाए तो खून निकल आता है.' जैसे कुछ शानदार आईकॉनिक डायलॉग देने वाले राजकुमार (Rajkumar) का आज जन्मदिन है. दमदार एक्टिंग और शानदार पर्सनैलिटी से राजकुमार उस समय लड़कियों के दिलों की धड़कन हुआ करते थे. पर्दे पर तो वह कमाल करते ही थे. लेकिन असल जिंदगी में भी वह काफी फिल्मी थे. उनके इसी अंदाज से एक बार रामानंद सागर खफा हो गए थे. उनके जन्मदिवस पर पढ़िए उनसे जुड़ा ये मशहूर किस्सा.

रामानंद सागर और राजकुमार का ये किस्सा फिल्म 'आंखे' से जुड़ा है. इस फिल्म के हीरो धर्मेंद्र थे. लेकिन धर्मेंद्र से पहले सागर इस फिल्म में अपने दोस्त राजकुमार को साइन करना चाहते थे. इसी सिलसिले में सागर एक दिन स्क्रिप्ट लेकर राजकुमार के घर पहुंचे.





सागर ने राजकुमार को फिल्म की स्क्रिप्ट सुनाई. लेकिन राजकुमार को कहानी पसंद नहीं आई. इस पर वह उन्हें सीधे तौर पर भी मना कर सकते थे. लेकिन उनके दिमाग में ना जाने क्या आया. फिल्म की कहानी सुनने के बाद उन्होंने अपने कुत्ते को आवाज लगाई. जरूर रामानंद सागर भी इस पर हैरान हुए होंगे कि आखिर उन्होंने कुत्ते को क्यों बुलाया. मालिक की आवाज पर कुत्ता दौड़कर आया. इस पर राजकुमार ने कुत्ते से पूछा 'क्या तुम ये रोल करोगे?'. इस पर कुत्ते ने गर्दन हिला दी.
कुत्ते के इस रिएक्शन के बाद राजकुमार बोले, 'देखो ये रोल तो मेरा कुत्ता भी नहीं करना चाहेगा.' रामानंद इसके बाद वहां से चले गए. इस फिल्म के लिए धर्मेंद्र को फाइनल किया गया. साथ ही साथ इसके बाद रामानंद सागर ने कभी राजकुमार के साथ काम नहीं किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज