राजीव कपूर की प्रॉपर्टी चाहते हैं भाई रणधीर कपूर और बहन रीमा जैन, हाई कोर्ट में चल रहा हैं मामला

फोटो साभार: @RemaJain/instagram

फोटो साभार: @RemaJain/instagram

कपूर खानदान की इस पीढ़ी के रणधीर कपूर और उनकी रीमा जैन (Rima Jain) जिंदा हैं. दोनों ने राजीव कपूर की प्रॉपर्टी पर अपने हक के लिए हाईकोर्ट में पीटिशन फाइल की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 2:00 PM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड में कपूर खानदान अपनी खास पहचान रखता है. राज कपूर (Raj kapoor) के सबसे छोटे बेटे राजीव कपूर (Rajiv Kapoor) का निधन दिल का दौरा पड़ने से हो गया. 9 फरवरी को उनके भाई राजीव कपूर (Rajiv Kapoor) का भी निधन हो गया है. कपूर खानदान की इस पीढ़ी के रणधीर कपूर और उनकी रीमा जैन (Rima Jain) जिंदा हैं. खबरों की माने तो दोनों ने राजीव कपूर की प्रॉपर्टी पर अपने हक के लिए हाईकोर्ट में पीटिशन फाइल की है. जिस पर हाई कोर्ट में सुनवाई हुई है.

राजीव कपूर (Rajiv Kapoor) की पर्सनल लाइफ के बारे में ज्यादा लोग नहीं जानते हैं. पत्नी के साथ मतभेद होने की वजह से दोनों अलग हो गए थे. दोनों कभी पब्लिक प्लेस पर साथ में नजर नहीं आए हैं. रणधीर कपूर और रीमा जैन के वकील ने कहा है कि वे दोनों ही राजीव कपूर की प्रॉपर्टी के हकदार हैं. जिस पर सुनवाई में हाईकोर्ट ने दोनों से राजीव कपूर के तलाक के सबूत लाने के लिए कहा है.

जस्टिस गौतम पटेल ने रणधीर और रीमा की फाइल की हुई पीटिशन पर सुनवाई की. राजीव कपूर की शादी साल 2001 में आरती सबरवाल से हुई थी और 2003 में दोनों का तलाक हो गया था. सुनवाई में रणधीर और रीमा के वकील ने कहा है कि उनके पास राजीव और आरती के तलाक के कागज नहीं हैं और उन्हें नहीं पता है कि किस फैमिली कोर्ट ने तलाक का आदेश जारी किया था.

रणधीर कपूर और रीमा जैन के वकील ने कहा-सिर्फ भाई और बहन ही राजीव कपूर की प्रॉपर्टी के हकदार हैं. हमारे पास उनके तलाक के कागज नहीं हैं. हम इसे ढूंढने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन हमे यह नहीं मिले हैं. उन्हें तलाक के कागज पेश करने से छूट दी जाए. जस्टिस गौतम ने कहा है कि कोर्ट तलाक के आदेश के कागज पेश न करने की छूट देने के लिए तैयार है लेकिन पहले स्वीकृति पत्र दिया जाए. इस मामले की सुनवाई अब स्थगित कर दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज