इन वेब सीरीज के सेकेंड सीजन को लेकर आ रही हैं ‘मिर्जापुर की बीना त्रिपाठी’ रसिका दुग्गल

रसिका दुग्गल, जल्द ही वेब सीरीज ‘आउट ऑफ लव’ के दूसरे सीजन में डॉ. मीरा का रोल निभाते हुए फिर से दिखाई देंगी. (File Photo)

रसिका दुग्गल, जल्द ही वेब सीरीज ‘आउट ऑफ लव’ के दूसरे सीजन में डॉ. मीरा का रोल निभाते हुए फिर से दिखाई देंगी. (File Photo)

रसिका दुग्गल (Rasika Dugal) मिर्जापुर वेब सीरीज के दोनों सीजन में अपनी एक्टिंग से दर्शकों का दिल जीत चुकी हैं. वे फिर कुछ वेब सीरीज के सेकेंड सीजन लेकर आ रही हैं. वे जल्द ही वेब सीरीज ‘आउट ऑफ लव’ (Out of Love) के दूसरे सीजन में डॉ. मीरा का रोल फिर से निभाते हुए दिखाई देंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 24, 2021, 10:14 PM IST
  • Share this:
मुंबई. एक्ट्रेस रसिका दुग्‍गल (Rasika Dugal) ने कहा कि वह इस बात पर ध्यान केंद्रित करने से बचने की कोशिश करती हैं कि कैरेक्टर प्ले करते समय लोग उनसे क्या उम्मीद करते हैं. वह महसूस करती है कि संगठित कार्यों में किन मामलों में निवेश किया जा रहा है. ‘मैं लोगों की अपेक्षा के अनुसार अपने रोल करने पर ध्यान केंद्रित करने की कोशिश नहीं करती. मैं हमेशा मानता हूं कि यदि आप अपने कैरेक्टर में ढलने के लिए अपना बेस्ट देने की कोशिश करते हैं, तो दर्शकों भी उस कहानी को बहुत इंटरेस्ट लेकर देखते हैं.’ रसिका दुग्गल, मिर्जापुर वेब सीरीज में बीना त्रिपाठी का रोल करके बहुत लोकप्रियता हासिल कर चुकी हैं.

रसिका ने आईएएनएस को बताया कि, ‘मैं मानती हूं कि, कहानी में खुद इंटरेस्ट रखते हुए मैं अपने कैरेक्टर को अपना बेस्ट देने की कोशिश करती हूं.’ वे जल्द ही वेब सीरीज ‘आउट ऑफ लव’ के दूसरे सीजन में डॉ. मीरा का रोल निभाते हुए फिर से दिखाई देंगी. इससे पहले वे ‘मिर्जापुर’ के दूसरे सीजन में अहम रोल में दिखी थीं और जल्द ही वह ‘दिल्ली क्राइम’ के सीजन 2 में भी दिखाई देंगी.

हिंदी वेब सीरीज ‘आउट ऑफ लव’ के सीजन 2 में अपनी वापसी के बारे में उन्होंने कहा कि- ‘मुझे लगता है कि सीजन 2 बहुत ही आकर्षक है. यह एक बहुत ही अलग अनुभव देता है.’ एक्ट्रेस स्वीकार करती हैं कि जब किसी ज्ञात सेट-अप में काम करने की बात आती है, तो कुछ सुकून की अनुभूति होती है.

‘यह शूटिंग के लिहाज से आरामदायक होता है क्योंकि आपके पास पहले से ही अपनी टीम की समझ है - टीम और टीम का फ्रेमवर्क पहले जैसा ही है. उदाहरण के लिए, मिर्जापुर की टीम काफी हद तक पहले जैसे ही थी, इसलिए मुझे पहले से ही इसके बारे में पता था. मैं जो कर रही थी और जो नहीं कर थीं, उन चीजों को जानती थी. एक बार जब वह सब निपटा लिया जाता है, तो आप उन सभी चीजों के बारे में चिंता करने के बजाय अपने काम पर ध्यान फोकस कर सकते हैं.’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज