सुशांत सिंह राजपूत मामले पर फिर सामने आए रिया चक्रवर्ती के वकील, मर्डर के दावों पर दी प्रतिक्रिया

सुशांत सिंह राजपूत
सुशांत सिंह राजपूत

रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के वकील (Lawyer) सतीश मानेशिंदे (Satish Maneshinde) ने सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के मर्डर के दावों पर अपनी प्रतिक्रिया दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2020, 9:38 AM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) केस में आए दिन ने खुलासे हो रहे हैं. इस केस में आए ड्रग्स के एंगल के बाद बॉलीवुड में एक अलग ही बवाल मच गया है. वहीं बीच बीते शुक्रवार सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह ने सीबीआई की जांच पर असंतुष्टि जाहिर करते हुए उनके मर्डर का शक जाहिर किया था. उन्होंने कहा था कि सुशांत के गले पर मिले निशानों को देखकर एम्स के डॉक्टर्स ने गला दबाए जाने की आशंका जताई थी. वहीं अब इस मामले पर रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के वकील (Lawyer) सतीश मानेशिंदे (Satish Maneshinde) की प्रतिक्रिया आई है. उन्होंने सुशांत के मर्डर के दावों पर 'खतरनाक' करार दिया है.

रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानेशिंदे ने का मानना है कि सुशांत की मौत को लेकर सिर्फ एक तस्वीर के जरिए इस फैसले पर आ जाना बेहद खतरनाक ट्रेंड है. उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में ये भी सुझाव दिया है कि जांच को निष्पक्ष बनाए रखने के लिए सीबीआई को नया मेडिकल बोर्ड भी तैयार करना चाहिए.

सतीश मानेशिंदे का ये कहना है कि 'AIIMS के डॉक्टर के द्वारा, जो डॉक्टर गुप्ता की टीम में हैं, सुशांत केस में 200 परसेंट के निर्णय पर आज जाना, वो भी एक तस्वीर के आधार पर, बेहद खतरनाक ट्रेंड है. जांच प्रक्रिया को निष्पक्ष और इस तरह के अनुमानों से दूर रखने के लिए सीबीआई को एक मेडिकल बोर्ड तैयार करना चाहिए. बिहार चुनाव के पहले एजेंसीज को प्रेशर किया जा रहा है कि वो पहले से सामने आ चुके परिणाम की एक बार फिर से जांच. हमने डीडी पांडे का वीआरएस भी देखा है. ऐसे कम दोबारा दोहराए जाने नहीं चाहिए'.




बता दे कि बीते शुक्रवार को सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह ने कहा था कि 'सुशांत केस में सीबीआई के ढ़ीले रवैये से परिवार झुंझलाया हुआ है. उन्होंने कहा कि थी इस केस में सीबीआई ने अभी तक AIIMS की टीम से बात नहीं की है, जबकि उन्हें इसी टीम के एक डॉक्टर ने सुशांत के शरीर पर मिले निशानों की तस्वीर देखकर कहा था कि ये 200 परसेंट गला दबाकर हुई मौत है, अत्महत्या नहीं है'.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज