रिया चक्रवर्ती ने पहली बार बताया, 8 जून को सुशांत सिंह राजपूत का घर छोड़कर क्यों गईं थी

रिया चक्रवर्ती ने पहली बार बताया, 8 जून को सुशांत सिंह राजपूत का घर छोड़कर क्यों गईं थी
रिया चक्रवर्ती और सुशांत सिंह राजपूत.

रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) ने इस बात खुलासा कर दिया है कि आखिर क्यों वो सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के छह दिन पहले उनका घर छोड़ कर चली गई थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 27, 2020, 9:09 PM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद यह एक बड़ा सवाल उठ रहा है कि रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) आखिर क्यों वो 8 जून को सुशांत का घर छोड़कर चली गई थीं. इस बात का जवाब सीधे रिया चक्रवर्ती ने एक टीवी इंटरव्यू में दिया है. रिया चक्रवर्ती ने बताया कि यह सिलसिला करीब मई में ही शुरू हो गया था. सुशांत मुंबई से चले जाना चाहते थे. उन्होंने अपने दोस्त आयुष शर्मा से बातचीत की और वो केरल में एक जगह पर बसना चाहते थे. मैं उनका साथ दे रही थीं. मैंने कहा चलो हम लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप रख लेते हैं.

रिया के अनुसार जून के महीने में सुशांत की हालत बहुत खराब हो गई थी. बल्कि बात यहां तक पहुंच गई थी कि वो डेली अप एंड डाउन चलने लगा था. यानी सुशांत की हालत आए दिन ठीक होती तो भी किसी दिन बहुत ज्यादा खराब हो जाती. बल्कि जून के पहले सप्ताह में हालत ऐसी हो गई थी कि वो सुबह ठीक होते शाम को उनकी हालत बहुत ज्यादा खराब हो जाती.

हालात खराब होने के दौरान उन्होंने 3 जून को डॉक्टर से बात की. इसके बाद सुशांत बार-बार मुझे कह रहे थे कि तुम घर जाओ. उन्होंने एक जून को कहने लगे कि जाओ घर जाओ. उन्होंने कहा कि तुम अपने घर जाओ. थोड़ी ठीक होकर आओ फिर मेरी मदद करो.



रिया के अनुसार जून महीने में उनकी हालत खुद बहुत खराब थी. मैं बार-बार पैनिक अटैक आ रहे थे. इसलिए 8 जून को मेरी डॉक्टर को थैरिपी सेशन बुक थी. मुझे मां-बाप के सामने ब्रेव फेस रखना होता है. इसलिए मैं ये सुशांत के साथ ही रखना चाहती थी. लेकिन उन्होंने कहना शुरू किया कि तुम्हारा हो गया, जाओ तुम यहां से अब.


यह भी पढ़ेंः Photo: इस हाल में हैं रिया के पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती, रह चुके हैं आर्मी ऑफिसर

उन्होंने कहा, "इसके बाद मैंने सुशांत से कहा कि मेरा थैरिपी सेशन है. उन्होंने कहा कि घर जाओ. मैंने कहा कि मीतू को बुलाओ फिर जाऊंगी. मेरे उनके परिवार के मेरे परिवार के रिश्ते बहुत शुरुआती दौर से बहुत अच्छा नहीं था. इसलिए सुशांत ने कहा कि मीतू के आने के पहले आपको जाना होगा. इतना ही नहीं जून के महीने में अपनी बहन, पिता से लगातार बात कर रहे थे. इतना ही नहीं जब 8 जून को मैं वहां निकली तो उनकी बहन मीतू वहां थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज