होम /न्यूज /मनोरंजन /Sanjay Mishra B'day Spl: जब फिल्में छोड़ ढाबे पर खाना बनाने लगे थे संजय मिश्रा, पढ़ें दिल छू लेने वाला किस्सा

Sanjay Mishra B'day Spl: जब फिल्में छोड़ ढाबे पर खाना बनाने लगे थे संजय मिश्रा, पढ़ें दिल छू लेने वाला किस्सा

B'day Spl:जब फिल्में छोड़ ढाबे पर खाना बनाने लगे थे संजय मिश्रा
(फोटो साभार: Instagram@imsanjaimishra)

B'day Spl:जब फिल्में छोड़ ढाबे पर खाना बनाने लगे थे संजय मिश्रा (फोटो साभार: Instagram@imsanjaimishra)

अपनी बेहतरीन कॉमिक टाइमिंग के लिए पहचाने जाने वाले बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा ने सिनेमा जगत में अपनी एक्टिंग का लोहा मनव ...अधिक पढ़ें

बिहार के दरभंगा में जन्मे फेमस कॉमेडियन संजय मिश्रा (Sanjay Mishra) आज यानी 6 अक्टूबर को अपना बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. उन्होंने अपने करियर में कई ऐसे किरदार निभाए हैं जो फैंस के दिलों पर छाप छोड़ गए। उनकी गजब की कॉमिक टाइमिंग का कोई सानी नहीं है. करियर के बीच में ही संजय ने एक्टिंग को अलविदा कह दिया था और वह उत्तराखंड के ऋषिकेश में एक ढाबे पर काम करने लगे थे. कहते हैं कि संजय अपने पिता के बहुत करीब थे. जब उनके पिता की मौत हुई तो उन्हें इतना गहरा सदमा लगा था कि उन्होंने एक्टिंग छोड़ने का फैसला कर लिया था. एक इंटरव्यू के दौरान खुद संजय ने अपने पिता और अपनी जिंदगी से जुड़ी कुछ सच्ची घटनाओं का जिक्र किया था. उन्होंने कहा था कि ऐसा अफसोस जिसे वह जिंदगी भर नहीं भुला पाएंगे।

एक इंटरव्यू के दौरान संजय ने बताया था कि उनकी जिंदगी में ऐसा भी एक वक्त आया था जब वह बुरी तरह टूट गए थे. तब उन्होंने दिल से एक्टिंग छोड़ने का मन बना लिया था और वह ढाबे में खाना पकाने लगे थे। इन सबके पीछे वजह थी उनके पिता का उनकी जिंदगी से चले जाना. खुद संजय मिश्रा ने इंटरव्यू के दौरान बताया कि पिता के निधन के बाद जैसे उनकी जिंदगी में सब कुछ खत्म हो गया था. उन्हें अपने पिता से बहुत लगाव था और उनके यूं चले जाने से संजय को गहरा सदमा लगा था. इसके बाद उन्होंने एक्टिंग को अलविदा कहने का मन बना लिया था और ऋषिकेश में एक ढाबे पर खाना पकाने का काम करने लगे।

रोहित शेट्टी न होते तो ढाबे पर बीत जाती जिंदगी
यहां सोचने वाली बात ये थी कि संजय मिश्रा ने आखिर ढाबे में काम करने के बाद अभिनय की दुनिया में वापसि कैसे की. आखिर ऐसा क्या हुआ होगा. तो बता दें कि अगर डायरेक्टर रोहित शेट्टी न होते तो शायद आज कॉमेडी के बादशाह संजय मिश्रा भी एक्टिंग की दुनिया से दूर जा चुके होते। फिल्म गोलमाल में रोहित शेट्टी और संजय मिश्रा ने साथ काम किया था। उस दौरान रोहित अपनी एक और फिल्म ऑल द बेस्ट पर काम कर रहे थे। तब उन्होंने संजय मिश्रा के बारे में सोचा और उनके किरदार को स्क्रिप्ट में जगह दी गई. सुना है संजय मिश्रा अभिनय की इस नगरी में वापसि नहीं करना चाहते थे. पर रोहित किसी तरह उन्हें मनाकर एक्टिंग लाइन में फिर से ले आए.

फिल्म ‘ऑल द बेस्ट’ से किया कमबैक
बता दें कि इसके बाद संजय मिश्रा ने कभी दोबारा पीछे मुड़कर नहीं देखा. रोहित ने शेट्टी ने जैसे उनकी पूरी जिंदगी ही बदल रख दी थी. पिता की मौत के सदमे से बाहर निकलकर संजय मिश्रा की एक्टिंग की गाड़ी को एक बार फिर से ट्रेक मिल गया. इसके बाद वह फिल्म ऑल द बेस्ट में नजर आए, जिंदगी के इस अहम पड़ाव पर फिल्म में उनकी किरदार को दर्शकों का भरपूर प्यार मिला. अपने कॉमिक अंदाज से सबको हंसाने वाले संजय ने आगे ‘कड़वी हवा’ और ‘अनारकली ऑफ आरा’ जैसी फिल्मों में दमदार अभिनय किया और फिर से अपनी एक्टिंग से लोगों को अपना दीवाना बना दिया.

Tags: Rohit shetty, Sanjay Mishra

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें