सरोज खान के परिवार ने किया ऐलान इस वजह से नहीं होगी 'मास्टर जी' की प्रेयर मीट

सरोज खान के परिवार ने किया ऐलान इस वजह से नहीं होगी 'मास्टर जी' की प्रेयर मीट
सरोज खान ने 71 साल की उम्र में अंतिम सांस ली.

सरोज खान (Saroj Khan) को शुक्रवार सुबह मलाड के कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया गया. सरोज खान को आखिरी विदाई देने के लिए उनके परिवारवाले और कुछ रिश्तेदार ही मौजूद थे.

  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड (Bollywood) की पहली महिला कोरियोग्राफर सरोज खान (Saroj Khan) अब हमारे बीच नहीं रहीं. शुक्रवार देर रात उन्होंने बांद्रा स्थित एक अस्पताल में अंतिम सांस ली. 71 साल की सरोज खान बॉलीवुड में 'मास्टर जी' के नाम से फेमस थीं. उनके निधन ने एक बार फिर से बॉलीवुड को गनगीन कर दिया है. उनके निधन की सूचना के बाद तमाम बॉलीवुड हस्तियों के साथ उनके फैंस ने भी उनक आत्मा की शांति केे दुआएं मांगी. सरोज खान को सुपुर्द-ए-खाक करने के बाद उनके परिवार एक स्टेटमेंट जारी कर इस बात की घोषणा की कि उनकी प्रार्थना सभा (No Prayer Meet For Saroj Khan) आयोजित नहीं की जाएगी.

सरोज खान (Saroj Khan) के इंस्टाग्राम अकाउंट पर परिवार ने ये जानकारी दी. सरोज खान की एक तस्वीर के साथ परिवार की तरफ से जो संदेश आया था उसमें लिखा था, 'सभी के संदेशों और मां के लिए प्रार्थना करने के लिए आप सभी का शुक्रिया. वर्तमान कोविड-19 हालातों को देखते हुए किसी प्रार्थना सभा का आयोजन नहीं किया जाएगा. जब भी हालात बेहतर होंगे तो हम मिलेंगे और सरोज खान की जिंदगी को सेलिब्रेट करेंगे'.


दरअसल, किसी बड़ी हस्ती के निधन के कुछ वक्त बाद एक प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाता है, जिसमें सभी लोग उस दिवंगत को याद करते हैं. लेकिन परिवार ने ये फैसला उस समय लिया पूरे देश में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. परिवार के तरफ से आए इस संदेश के बाद सरोज खान के तमाम चाहने वालों ने इस पोस्ट पर कमेंट बॉक्स में उनके लिए प्रार्थना संदेश लिखे हैं.



सरोज खान को पिछले कुछ दिनों से सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिसके बाद उन्हें बांद्रा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सरोज खान को शुक्रवार सुबह मलाड के कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाककर दिया गया. सरोज खान को आखिरी विदाई देने के लिए उनके परिवारवाले और कुछ रिश्तेदार ही मौजूद थे.

आपको बता दें कि सरोज ने महज 3 साल की उम्र में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था. उनकी पहली फिल्म नजराना थी, जिसमें उन्होंने श्यामा नाम की बच्ची का किरदार निभाया था. 71 साल की सरोज खान का जन्म 22 नवंबर 1948 में हुआ था. 50 के दशक में वो कई बॉलीवुड फिल्मों में बतौर बैकग्राउंड डांसर भी काम किया. चार दशक से अधिक के करियर में सरोज खान को 2 हजार से अधिक गीतों को कोरियोग्राफ करने का श्रेय जाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading