बच्चा जगा रहा था मरी हुई मां को, ‌पिघला शाहरुख का दिल, बोले-मैंने भी मां-बाप खोए हैं

बच्चा जगा रहा था मरी हुई मां को, ‌पिघला शाहरुख का दिल, बोले-मैंने भी मां-बाप खोए हैं
शाहरुख खान.

शाहरुख खान (Shahrukh Khan) ने अपने पिता को बचपन में ही खो दिया था जबकि करीब 30 साल पहले उन्होंने अपनी मां को खो दिया था.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
मुंबई. शाहरुख खान (Shahrukh Khan) के मीर फाउंडेशन ने बिहार के मुजफ्फरपुर के एक बच्चे के वायरल वीडियो के बाद उसकी मदद के लिए हाथ बढ़ाया है.  यह वीडियो एक हालिया घटना से जुड़ा हुआ है, जिसमें एक प्रवासी मजदूर का परिवार घर जा रहा  था, लेकिन रास्ते में महिला की मौत हो गई थी. ये बच्चा रेलवे स्टेशन पर अपनी मरी हुई मां को जगाने की कोशिश करते हुए नजर आ रहा था. शाहरुख खान के संस्‍थान ने यह वीडियो देखने के बाद कहा कि हमें इस बच्चे को ध्यान रखना होगा और उसके परिवार का भी.

उल्लेखनीय है कि शाहरुख खान ने अपने पिता को बचपन में ही खो दिया था जबकि करीब 30 साल पहले उन्होंने अपनी मां को खो दिया था. अपने एक इंटरव्यू में शाहरुख खान ने बताया कि वो अपने मां-बाप के दूर रहे हैं. शाहरुख खान ने कहा, "मैंने एक चीज तय की कि मैं बहुत दिनों तक जिंदा रहूंगा. यही नहीं मैं अपने बच्चों के लिए भी यह सुनिश्चित करूंगा कि वो अपने मां-बाप के ना रहें. मैं उनके साथ बात करूंगा, पढ़ूंगा, उनकी समस्याओं का निदान करूंगा. लेकिन मुझे गुस्सा आएगा जब उनके साथ कोई गर्लफ्रेंड-बॉयफ्रेंड की समस्या आएगी."

इससे पहले दो बार के इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) ने घोषणा की कि चक्रवात अम्फान (Cyclone Amphan) की तबाही के बाद वे पांच हजार पेड़ लगाएंगे और साथ ही पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री राहत कोष में योगदान भी देंगे.



केकेआर के मालिकों में शामिल शाहरुख खान ने संदेश में कहा, इस मुश्किल के समय में हमें मजबूत रहना चाहिए जब तक कि हम दोबारा एक साथ मुस्कुराना नहीं शुरू कर दें. उन्होंने कहा,केकेआर इस मुश्किल समय में योगदान देने के लिए प्रतिबद्ध है. केकेआर की ‘प्लांट ए 6’ पहल के जरिए हम स्थानीय अधिकारियों के साथ मिलकर काम करने और कोलकाता में पांच हजार पेड़ लगाने की शपथ लेते हैं.



ये भी देखें:


यह भी पढ़ेंः सीता' दीपिका च‍िखल‍िया ने बताई अपने रीयल-लाइफ 'राम' की Love Story

कोलकाता की यह फ्रेंचाइजी दूरदराज के इलाकों में प्रभावित लोगों की मदद भी करेगी. फ्रेंचाइजी ने बताया कि चक्रवात से सबसे अधिक प्रभावित चार क्षेत्रों- कोलकाता, उत्तर और दक्षिण 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर- में जरूरतमंदों को राशन और साफ-सफाई का जरूरी सामान मुहैया कराया जाएगा.
First published: June 1, 2020, 11:29 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading