शाहरुख खान ने जब ICU में भर्ती मां से कहा था, 'मैं काम नहीं करूंगा, शराब पीना शुरू कर दूंगा'

टीवी से बॉलीवुड का सफर शाहरुख के लिए आसान नहीं था. फाइल फोटो

टीवी से बॉलीवुड का सफर शाहरुख के लिए आसान नहीं था. फाइल फोटो

शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) ने साल 2019 में डेविड लेटरमैन के मशहूर टॉक शो 'माय नेक्स्ट गेस्ट विद डेविड लेटरमैन' के दौरान अपने बचपन के संघर्ष और परेशानियों के बारे में बात की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 24, 2021, 9:39 AM IST
  • Share this:
मुंबई. कुछ लोग उन्हें बॉलीवुड का 'बादशाह' कहते हैं तो कुछ 'किंग खान'. शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) इंडस्ट्री का वो नाम हैं, जिन्होंने अपने दम पर फिल्म इंडस्ट्री में मुकाम हासिल किया है. टीवी से बॉलीवुड का सफर शाहरुख के लिए आसान नहीं था, लेकिन उन्होंने अपनी मेहनत से इसे सफल बनाया. शाहरुख ने 14 साल की उम्र में अपने पिता को खो दिया था. तब उन्हें मां का सहारा मिला, लेकिन मां के जाने के बाद वह बेहद टूट गए थे. ऐसा ही एक किस्सा है, जिसको उन्होंने खुद शेयर किया था.

शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) का जीवन कई मायनों में एक खुली किताब की तरह दिखता है, लेकिन बहुत से लोग उनकी जिंदगी के कुछ दिल तोड़ने वाले पलों के बारे में नहीं जानते हैं. साल 2019 में डेविड लेटरमैन के मशहूर टॉक शो 'माय नेक्स्ट गेस्ट विद डेविड लेटरमैन' में एक्टर ने इस दौरान अपने बचपन के संघर्ष और परेशानियों के बारे में बात की थी.

उन्होंने बताया था कि वह अपनी मां के बेहद करीब थे. मां को उनकी चिंता लग रहती थी. एक किस्सा याद करते हुए उन्होंने बताया कि जब उनकी मां लतीफ फातिमा खान अस्पताल में भर्ती थी तो उन्होंने यह सुनिश्चित करने के लिए एक वीसीआर की व्यवस्था की थी कि उसकी मां उनके एक्टिंग को देख सके. तब वह टीवी पर डेली शोप किया करते थे.

बेटे का सपना पूरा हो रहा है, ये देख मां खुश थी. लेकिन उनकी तबीयत ठीक नहीं हो रही थी. उन्होंने बताया कि था कि जब मां आईसीयू में थीं और मैंने सोचा कि अगर मैं उन्हें परेशान करूंगा तो वह मेरे पास आ जाएंगी. इसलिए मैं उनके बिस्तर के बगल में बैठ गया और ऐसी बातें कहने लगा कि मैं अपनी बड़ी बहन (लालारुख) को लेकर मतलबी हो जाऊंगा. मैं उसकी शादी नहीं करूंगा, मैं काम नहीं करूंगा, मैं शराब पीना शुरू कर दूंगा.
उन्होंने बताया कि ये सब मैंने इसलिए कहा कि कई बुरी चीजें कहने के बाद वह मेरी चिंता में वह वापस आ जाएंगी. यह कहते हुए 'या अल्लाह इस लड़के की मुझे अभी भी चिंता है... '. लेकिन यह तरीका काम नहीं आया, अगली सुबह, शाहरुख की मां ने उनकी ही बांहों में दम तोड़ दिया.

शाहरुख खान की मासूमिय भरी चाल ने काम नहीं किया और पिता की तरह ही उन्होंने अपनी मां को भी खो दिया. हिंदुस्तान टाइम्स के साथ एक पुराने इंटरव्यू में, शाहरुख खान ने अपने माता-पिता के अचानक चले जाने के बाद अपने जीवन के बारे में बात की थी. उन्होंने कहा था कि मेरे माता-पिता अचानक चले गए, जिसका दुख मुझे सारी जिंदगी रहेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज