Home /News /entertainment /

ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम की हार के बाद शाहरुख खान ने किया ट्वीट, बढ़ाया हौसला

ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम की हार के बाद शाहरुख खान ने किया ट्वीट, बढ़ाया हौसला

शाहरुख खान ने फिल्म चक दे इंडिया में हॉकी कोच की भूमिका निभाई थी.

शाहरुख खान ने फिल्म चक दे इंडिया में हॉकी कोच की भूमिका निभाई थी.

भारतीय पुरुष हॉकी टीम के द्वारा मेडल जीतने के बाद लोगों की निगाहें भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Women Hockey Team) पर थीं. लेकिन शुक्रवार की सुबह देश को हार के साथ निराशा का सामना किया. लेकिन इस हार के बाद भी टीम का हौसला लोग सोशल मीडिया पर खूब बढ़ा रहे हैं. इस लिस्ट में शाहरुख खान भी शामिल हैं.

अधिक पढ़ें ...

    भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Women Hockey Team) ने ब्रिटेन के साथ ब्रॉन्ज मेडल के लिए शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन मेडल अपने नाम करने में वह सफल नहीं रह सकीं. हालांकि महिला टीम के इस शानदार प्रदर्शन को फैंस सालों तक याद रखेंगे. टीम का यह ओलंपिक (Tokyo Olympics) में ओवरऑल सबसे बेहतरीन प्रदर्शन है. अंक तालिका में भारतीय महिला हॉकी टीम चौथे नंबर पर जरूर है, लेकिन भारतीय के दिलों में उन्होंने अहम स्थान बना लिया है. ब्रिटेन से भारत को मिली हार के बाद बॉलीवुड (Bollywood) के किंग खान यानी शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) ने टीम का हौसला बढ़ाते हुए एक ट्वीट किया है.

    भारतीय पुरुष हॉकी टीम के द्वारा मेडल जीतने के बाद लोगों की निगाहें भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Women Hockey Team) पर थीं. लेकिन शुक्रवार की सुबह देश को हार के साथ निराशा का सामना किया. लेकिन इस हार के बाद भी टीम का हौसला लोग सोशल मीडिया पर खूब बढ़ा रहे हैं. इस लिस्ट में शाहरुख खान भी शामिल हैं.

    उन्होंने ट्वीट कर कहा- ‘दिल टूटा!!! लेकिन हमारे सिर को ऊंचा रखने के सभी कारण हैं, भारतीय महिला हॉकी टीम ने अच्छा खेला. आप सभी ने भारत में सभी को प्रेरित किया, वही जीत है’.

     Shah Rukh khan, Indian women hockey team, tokyo olympics, Indian women hockey team lost to britain, Indian women hockey team lost in bronze medal match, Bollywood, ओलंपिक, भारतीय महिला हॉकी टीम, शाहरुख खान

    महिला टीम सिर्फ तीसरी बार ओलंपिक में उतरी. 2016 रियाे ओलंपिक में टीम 12 वें नंबर पर रही थी. इसके अलावा 1980 में टीम चौथे नंबर पर रही थी. हालांकि उस समय सेमीफाइनल के मुकाबले नहीं थे. इस तरह से टोक्यो में टीम का प्रदर्शन ओलंपिक इतिहास का बेस्ट प्रदर्शन है.

    भारतीय गोलकीपर सविता पूनिया ने मैच के दौरान कॉर्नर ही नहीं बचाए. बल्कि ब्रिटेन के कई हमलों को भी रोका. 35वें मिनट में ब्रिटेन की कप्तान होली वेब ने गोल करके स्काेर 3-3 से बराबर कर दिया. तीसरे क्वार्टर के बाद स्कोर 3-3 से बराबर रहा. चौथे क्वार्टर में उदिता को यलो कार्ड मिला. इस कारण वे 5 मिनट तक मैदान से बाहर थीं. इसका टीम को खामियाजा भुगतना पड़ा. ब्रिटेन को लगातार तीन कॉर्नर मिले और 48वें मिनट में ग्रेस बाल्स्डॉन ने गोल करके टीम को 4-3 से आगे कर दिया. इसके बाद गोल नहीं हुआ और ब्रिटेन ने ब्रॉन्ज मेडल जीता.

    Tags: Indian Women Hockey, Shah rukh khan, Tokyo Olympics

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर