Home /News /entertainment /

17 Years Of Swades: शाहरुख खान ‘स्वदेश’ में नहीं करना चाहते थे काम, आज तक नहीं देखी पूरी फिल्म

17 Years Of Swades: शाहरुख खान ‘स्वदेश’ में नहीं करना चाहते थे काम, आज तक नहीं देखी पूरी फिल्म

शाहरुख खान की फिल्म 'स्वदेश' के 17 साल पूरे. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

शाहरुख खान की फिल्म 'स्वदेश' के 17 साल पूरे. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

‘स्वदेश’ (Swades) की कहानी के साथ-साथ फिल्म के संगीत को भी बेहद पसंद किया जाता है. इस फिल्म को लेकर एक दिलचस्प किस्सा संगीतकार ए आर रहमान (A R Rehman) ने बताया था. उन्होंने बताया था कि देशभक्ति से ओतप्रोत इस फिल्म को देख कई लोग विदेश से वापस अपने वतन इंडिया लौट आए. विदेश में जा बसे कई इंडियन ये कहते हुए भारत आ गए कि अपने देश को फिर से महान बनाएंगे. इस फिल्म ने लोगों के दिलों पर गहरा प्रभाव छोड़ा था.

अधिक पढ़ें ...

    शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) स्टारर फिल्म ‘स्वदेश’ (Swades) 17 दिसंबर 2004 में रिलीज हुई थी. इस फिल्म में देशभक्ति के जज्बे को एक अलग तरीके से दर्शकों के सामने रखा गया था. आशुतोष गोवारिकर (Ashutosh Gowariker) ने सुपरहिट फिल्म ‘लगान’ के बाद एक और नए विषय पर फिल्म बनाई थी जिसमे शाहरुख के साथ गायत्री जोशी (Gayatri Joshi) को लिया था. शाहरुख की इस एक्ट्रेस का काम लोगों को पसंद आया था लेकिन इसने फिल्मों से दूरी बना ली है. इस फिल्म में शाहरुख की एक्टिंग का एक नया आयाम दर्शकों को देखने को मिला था, लेकिन शायद ही किसी को पता हो शाहरुख इस फिल्म को करना नहीं चाहते थे. आईए स्वदेश’ के 17 साल पूरा होने पर बताते हैं फिल्म से जुड़े कुछ दिलचस्प किस्से.

    शाहरुख खान नहीं करना चाहते थे  ‘स्वदेश’ 

    दरअसल, 17 साल पहले जब आशुतोष गोवारिकर ने नासा जैसे विषय पर फिल्म ‘स्वदेश’ बनाने की सोची तो शाहरुख खान को एप्रोच किया. शाहरुख ने इस फिल्म की स्टोरी सुनने के बाद कहा कि फिल्म तो अच्छी है लेकिन चल नहीं पाएगी. क्योंकि इस फिल्म का कंटेट तो शानदार था लेकिन आम फिल्मों की तरह हिट करवाने वाले फॉर्मूले नहीं थे. हुआ भी यही लेकिन बाद में इस फिल्म को मास्टरपीस बताया जाने लगा. वहीं इस फिल्म को करने बाद शाहरुख खान के दिल के सबसे करीब फिल्मों में से एक बन गई. ये बात खुद एक्टर ने मीडिया से बात करते हुए बताई थी.

    ‘स्वदेश’ से शाहरुख का इमोशनल रिश्ता

    ‘स्वदेश’ करते-करते शाहरुख खान इस फिल्म से इमोशनली जुड़ गए. शाहरुख खान ने मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में बताया था कि ‘स्वदेश’ के एंडिंग को लेकर वह इतने भावुक हो गए कि खुद अपनी फिल्म को कभी अंत तक नहीं देखा. ये पहली इंडियन फिल्म थी जिसमें नासा रिसर्च सेंटर के अंदर फिल्माए गए सीन दिख गए. फिल्म की कहानी एक एनआरआई साइंटिस्ट की घर वापसी की कहानी है. फिल्म में शाहरुख नासा में प्रोजेक्ट मैनेजर के रोल में थे जो गांव आते हैं और कई तरह की जमीनी हकीकत से रुबरू होते हैं.

    swades film

    ‘स्वदेश’ में शाहरुख खान अपनी को-एक्ट्रेस गायत्री जोशी के साथ.फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

    ‘स्वदेश’ देख कईयों ने की वतन वापसी

    इस फिल्म के संगीत को आज भी बेहद पसंद किया जाता है. इस फिल्म को लेकर एक दिलचस्प किस्सा संगीतकार ए आर रहमान ने बताया था. उन्होंने बताया था कि देशभक्ति से ओतप्रोत इस फिल्म को देख कई लोग विदेश से वापस अपने वतन इंडिया लौट आए. विदेश में जा बसे कई इंडियन ये कहते हुए भारत आ गए कि अपने देश को फिर से महान बनाएंगे. इस फिल्म ने लोगों के दिलों पर गहरा प्रभाव छोड़ा था.

    swades film

    स्वदेश फिल्म के एक सीन में शाहरुख खान.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

    ये भी पढ़िए-Suresh Oberoi B’day: मात्र 400 रुपए लेकर मुंबई आए थे सुरेश ओबेरॉय, आज हैं करोड़ों के मालिक

    ‘ये जो देश है तेरा’ फिल्म का सुपरहिट गाना

    ‘स्वदेश’ का एक गाना ‘ये जो देश है तेरा’ सुनकर हर भारतीय के दिल में देशभक्ति की भावना हिलोरे मारने लगता है. इस गाने की प्रसिद्धि ही थी कि यूएस नेवी बैंड ने भी यूएसए में भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू के सामने इस गाने पर परफॉर्मेंस दिया था.

    Tags: A R Rehman, Shah rukh khan

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर