Home /News /entertainment /

बॉलीवुड डेब्यू से पहले शनाया कपूर ने बताए Star Kid होने के नुकसान, बोलीं- लोग जजमेंट जरूर करते हैं

बॉलीवुड डेब्यू से पहले शनाया कपूर ने बताए Star Kid होने के नुकसान, बोलीं- लोग जजमेंट जरूर करते हैं

शनाया कपूर ने बॉलीवुड में डेब्यू करने जा रही हैं.
(फोटो साभारः Instagram @shanayakapoor02)

शनाया कपूर ने बॉलीवुड में डेब्यू करने जा रही हैं. (फोटो साभारः Instagram @shanayakapoor02)

बॉलीवुड एक्टर संजय कपूर की बेटी शनाया कपूर (Shanaya Kapoor) बॉलीवुड में डेब्यू करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. फिल्मों में आने से पहले उन्होंने बतौर अस्सिटेंट काम किया है. उन्होंने एक इंटरव्यू में अपने अनुभव को बताया और स्टार किड होने का नुकसान भी बताया.

अधिक पढ़ें ...

    मुंबई. बॉलीवुड एक्टर संजय कपूर (Sanjay Kapoor)  और महीप कपूर की बेटी शनाया कपूर बॉलीवुड में एंट्री करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. वह फिल्ममेकर करण जौहर की धर्मा प्रोडक्शंस के तहत बन रही फिल्म से डेब्यू करेंगी. उन्होंने एक इंटरव्यू में एक स्टार किड होने के नुकसान के बारे में बताया. उन्होंने बतौर अस्सिटेंट काम करने के अपने अनुभव के बारे में भी बात की. उन्होंने कहा कि स्टारकिड्स (Star kids) को लेकर लोग जजमेंटल होते हैं. लेकिन वह इसकी परवाह नहीं करती हैं और पॉजिटिव लोगों पर ध्यान देती हूं.  उन्होंने कहा, “मैं जो काम कर रही हूं, उसमें जजमेंट जरूर होते हैं, लेकिन मैं इसे पॉजिटिव तरीके से लेती हूं और उन लोगों पर फोकस करती हूं जो हमेशा मुझे मोटिवेट करते हैं, वो चाहे इंस्टा फॉलोअर्स हों या मीडिया, मैं उनके प्यार और सपोर्ट पर फोकस करती हूं बाकी सब मेरे लिए बेकार हैं. सकारात्मकता पर ध्यान देना ही एक सही रास्ता है.”

    शनाया कपूर (Shanaya Kapoor Debut)ने बॉलीवुड में अपनी शुरुआत करने से पहले फिल्म ‘गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’ के सेट पर अस्सिटेंट का काम किया. इस फिल्म में उनकी कजिन जाह्नवी कपूर लीड रोल में थीं. शनाया ने अपने अनुभव के बारे में पूछे जाने पर कहा कि उन्होंने इस प्रोजेक्ट पर काम करते हुए इंडस्ट्री के बारे में बहुत कुछ सीखा. शनाया ने कहा कि ‘गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’ का हिस्सा होना बेहद खास था, और करियर शुरू करने से पहले उनके लिए एक बहुत ही खास जर्नी थी.

    शनाया कपूर (Shanaya Kapoor) ने कहा कि वह सीखना चाहती थीं कि एक फिल्म कैसे बनाई जाती है, प्रोसेस कैसा होता है, सेट पर लोग किस तरह के काम करते हैं, एक्टर्स अपने किरदारों के लिए कैसे तैयारी करते हैं, बैकग्राउंड एक्शन कैसे काम करता है. शनाया ने आगे कहा,”पूरी टीम को एक लक्ष्य के डायरेक्शन में काम करते देखना एक अद्भुत और बेहतरीन अनुभव था, यह एक फिल्म बनाने के लिए बहुत अच्छा है. इसकी वजह से मैं जो करने (एक्टिंग) जा रही हूं उससे और भी ज्यादा प्यार हो गया है.”

    शनाया ने आगे कहा,”मेरे लिए सबसे बड़ा रास्ता यह सीखना था कि कैसे सेट पर पहुंचने से पहले के प्रोसेस में स्टोरी की डिफाइन फाउंडेशन है! मैंने बहुत कुछ समझा जो मुझे पहले नहीं पता था.”

    Tags: Bollywood actress, Shanaya Kapoor

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर