B'Day: 54 साल के हुए मोहित चौहान, एआर रहमान की डांट से लगता है सिंगर को डर

मोहित ने अब तक 80 से ज्यादा फिल्मों में गीत गाए हैं. (Instagram @MohitChauhan)

मोहित ने अब तक 80 से ज्यादा फिल्मों में गीत गाए हैं. (Instagram @MohitChauhan)

प्लेबैक गायकी के अलावा मोहित चौहान (Mohit Chauhan) ने एक और खूबसूरत काम किया है. उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम (APJ Abdul Kalam) की कविताओं को कंपोज किया है. इस शानदार आइडिया के पीछे काफी योगदान उनकी पत्नी का भी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 11, 2021, 9:24 AM IST
  • Share this:
मुंबई. 90 के दशक में पॉप म्यूजिक का क्रेज सिर चढ़कर बोलता था. इसी समय एक गाना बहुत फेमस हुआ जिसका नाम था 'डूबा-डूबा रहता हूं.' सिल्क रूट नाम के इस म्यूजिक बैंड में मोहित चौहान (Mohit Chauhan), अतुल मित्तल, किम त्रिवेदी और केनी पुरी शामिल थे. इस बैंड के सिंगर मोहित चौहान आज अपना 54वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. मोहित चौहान इंडस्ट्री के सबसे पसंदीदा सिंगर्स (Bollywood Singers) में से एक हैं.

11 मार्च 1966 को मोहित चौहान का जन्म नाहन, सिरमौर, हिमाचल प्रदेश में हुआ था. मोहित चौहान ने पहले दिल्ली के सेंट ज़ेवियर स्कूल में एडमिशन लिया था और उसके बाद हिमाचल प्रदेश से अपनी पढ़ाई कम्पलीट की. बहुत काम लोग जानते हैं कि मोहित चौहान ने कभी म्यूजिक की फॉर्मल ट्रेनिंग नहीं ली है, वो सिर्फ अच्छे सिंगर ही नहीं बल्कि गिटार बजाने में भी महारत हासिल किए हैं. दिल्ली में अपने स्कूलमेट और पियानोवादक केम त्रिवेदी के साथ मिलकर मोहित ने अपना खुद का बैंड 'सिल्क रूट'(1996) बनाया.

साल 2002 में फिल्म 'रोड' से मोहित ने बॉलीवुड के लिए गाना शुरू किया. साल 2006 में राकेश ओमप्रकाश मेहरा ‘रंग दे बसंती’ बना रहे थे. फिल्म में एआर रहमान का म्यूजिक था. एआर रहमान ने मोहित चौहान को ब्रेक दिया. गाना था- 'खून चला.' इस फिल्म में मोहित चौहान ने इकलौता यही गाना गाया था लेकिन उनके इसी गाने ने उनकी किस्मत बदल दी. इस गाने की रिकॉर्डिंग का किस्सा भी बहुत दिलचस्प है. मोहित चौहान रिकॉर्डिंग से पहले काफी ‘नर्वस’ थे. उन्हें इस बात का डर था कि वो ये गाना गा पाएंगे भी या नहीं. कहीं ऐसा ना हो कि एआर रहमान से डांट खानी पड़ जाए.


इस डर से निजात तब मिली जब उन्हें पता चला कि इस गाने को प्रसून जोशी ने लिखा है. प्रसून जोशी और मोहित चौहान की जान पहचान पहले से थी. प्रसून ने सिल्क रूट बैंड के लिए भी कुछ काम किया था. इस तरह उस अनचाही ‘नर्वसनेस’ से बाहर निकलकर मोहित चौहान ने गाना गाया. अगले ही साल मोहित चौहान ने ‘जब वी मेट’ का सुपरहिट गाना ‘तुम से ही दिन होता है’ गाया. इस गाने का संगीत प्रीतम ने तैयार किया था. इस गाने ने मोहित चौहान के लिए फिल्म इंडस्ट्री के दरवाजे पूरी तरह खोल दिए.

मोहित ने अब तक 80 से ज्यादा फिल्मों में गीत गाए हैं, जिनमें हिंदी के साथ-साथ बंगाली, कन्नड़, मराठी, तमिल और पंजाबी भाषाओं के गीत शामिल हैं. बता दें कि मोहित हिंदी के साथ-साथ अंग्रेजी और पहाड़ी भी फर्राटे के साथ बोल लेते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज