'रिया चक्रवर्ती के पीछे पड़े हो' बॉलीवुड सेलेब्स का मीडिया को Open Letter, सोनम-अनुराग तक ये हुए एकजुट

रिया चक्रवर्ती अभी जेल में बंद हैं.
रिया चक्रवर्ती अभी जेल में बंद हैं.

रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के लिए बॉलीवुड (Bollywood) फिर एकजुट हुआ हैं. हाल ही में बॉलीवुड के कई सेलेब्स ने मीडिया के नाम एक ओपन लेटर (खुला पत्र) पर हस्ताक्षर करके, एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले (Sushant Singh Rajput Case) में चल रही जांच को लेकर मीडिया को घेरने की कोशिश की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 16, 2020, 10:14 PM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (Narcotics Control Bureau) द्वारा की गई केस की मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के बाद से चुप बैठे बॉलीवुड सेलेब्स (Bollywood celebs) अचानक से रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के समर्थन में उतर गए. रिया के साथ मीडिया को सलूक देखने के बाद एक बार फिर बॉलीवुड सेलेब्स एकजुट हुए हैं. हाल ही में बॉलीवुड के कई सेलेब्स ने मीडिया के नाम एक ओपन लेटर (खुला पत्र) पर हस्ताक्षर करके, एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में चल रही जांच को लेकर मीडिया द्वारा रिया के लिए किए जा रहे बर्ताव पर आपत्ति जताई है. इस पत्र पर हस्ताक्षर करने वालों में अदाकारा सोनम कपूर, फरहान अख्तर, जोया अख्तर, अनुराग कश्यप आदि कई सेलेब्स के नाम शामिल हैं.

दरअसल, फेमिनिस्ट वॉयस ( Feminist Voices) नामक एक ब्लॉग पर प्रकाशित, पत्र अपने हस्ताक्षरकर्ताओं के निदेशक अनुराग कश्यप, गौरी शिंदे, जोया अख्तर, एक्ट्रेस सोनम कपूर, रसिका दुग्गल, अमृता सुभाष, मिनी माथुर, दीया मिर्जा और लगभग 2500 अन्य लोगों ने मीडिया के नाम इस ओपन लेटर पर हस्ताक्षर किए हैं. 60 संगठनों ने भी पत्र का समर्थन किया है.

इनके अलावा पत्र में फ्रीडा पिंटो, अलंकृता श्रीवास्तव, गौरी शिन्दे, रीमा कागती, रुचि नारायण, रसिका दुग्गल, अमृता सुभाष, मिनी माथुर, दीया मिर्जा और अन्य कई हस्तियों ने भी इस पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं. इन लोगों ने पत्र में मीडिया से कहा है कि वह खबरों का पीछा करे, न कि महिलाओं का.




प्रिय समाचार भारत का मीडिया
हम, आपकी चिंता कर रहे हैं. क्या आप ठीक महसूस कर रहे हैं?

क्योंकि, जब हम मीडिया को रिया चक्रवर्ती के पीछे पड़े देखते हैं तो हम समझ नहीं पाते हैं कि आपने पत्रकारिता के हर पेशेवर नैतिकता को क्यों त्याग दिया है. आप एक महिला की मानवीय शीलनता और गरिमा को बनाए रखने के बजाए कैमरे लेकर उस पर हमला करने में लगे हैं. आप उसकी निजता का उल्लंघन कर रहे हैं और झूठे आरोपों पर दिन-रात काम कर रहे हैं. 'रिया को फंसाओं' ड्रामा चल रहा है.

आपको केवल एक कहानी बनाने का जुनून सवार हो गया है. एक युवा महिला जो अपने फैसले खुद करती है, जो बिना शादी के अपने प्रेमी के साथ रहती है और जो खुद को संकट में काम करने वाले की तरह अभिनय करने के बजाय खुद के लिए बोलती है. बिना जांच के, कानून की प्रक्रिया के बिना उसे अपराधी मान लिया जाता है.

पत्र में आगे लिखा है- हमने सलमान खान और संजय दत्त के मामले में आपका दयालु और सम्मानजनक रुख देखा है, लेकिन जब बात एक महिला की आती है, जिसने कोई अपराध किया है यह अभी साबित भी नहीं हुआ है, आप उसके चरित्र पर बार-बार हमला कर रहे हैं. उस पर और उसके परिवार पर निशाना साधने के लिए सोशल मीडिया पर लोगों को उकसा रहे हैं और उसकी गिरफ्तारी को अपनी जीत बता रहे हैं. क्या जीत है इसमें?

पत्र में कहा गया है कि हम देख रहे हैं कि आप रिया चक्रवर्ती के पीछे पड़े हो, हमें समझ नहीं आ रहा कि आपने पत्रकारिता के प्रत्येक पेशेवर मूल्य को क्यों त्याग दिया है.

आपको बता दें कि सुशांत केस में ड्रग एंगल सामने आने के बाद ब्यूरो मादक पदार्थ ने मामले में जांच शुरू की. इस केस में एनसीबी ने शौविक चक्रवर्ती और राजपूत के मैनेजर सैमुअल मिरांडा और दीपेश सावंत को पहले गिरफ्तार किया. एनसीबी इस मामले में अब तक रिया समेत 18 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज