आलिया भट्ट की मां सोनी राज़दान को मिली 'चुप रहने' की सलाह, दिया करारा जवाब!

आलिया भट्ट की मां सोनी राज़दान को मिली 'चुप रहने' की सलाह, दिया करारा जवाब!
सोनी राज़दान बीते कई दिनों से ट्विटर पर भारी ट्रोलिंग का शिकार हो रही हैं.

सोनी राज़दान को लगातार सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जा रहा था और उन्हें 'चुप रहने' और पाकिस्तान चले जाने की सलाह दी जा रही थी.

  • Share this:
आलिया भट्ट की मां सोनी राज़दान को बीते दिनों सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया गया. ब्रिटेन में जन्मी सोनी राज़दान को ट्विटर पर पाकिस्तान चले जाने को कहा गया. इसके बाद कंगना रनौत की बहन रंगोली ने भी सोनी को भारत के बारे में बात करने के लिए ताना दिया. रंगोली का तर्क था कि सोनी राज़दान को भारतीय मुद्दों पर बोलने की छूट नहीं मिलनी चाहिए, क्योंकि वो खुद भारतीय नहीं हैं.

इतनी ट्रोलिंग और नकारात्मक कमेंट के बाद सोनी राज़दान ने कहा कि ऐसा होने पर बुरा लगना स्वाभाविक है, लेकिन अब वो सोशल मीडिया पर होने वाली इस तरह की बातों से उपर उठ गई हैं.

क्यों पाकिस्तान जाना चाहती हैं आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान?



पीटीआई से हुई बातचीत में सोनी राज़दान ने कहा, 'हर इंसान को इस तरह की बातों का बुरा लगेगा, मैं भी कोई परग्रही जीव तो नहीं हूं. मुझे भी बुरा लगा लेकिन एक समय पर जाकर आपको इस तरह की बातों का बुरा लगना बंद हो जाता है. आपको सोचना पड़ता है कि आखिर ये कौन लोग हैं और आपको बुरा क्यों महसूस करवाना चाहते हैं?'
सोनी राज़दान पर सोशल मीडिया के द्वारा लगातार हो रहे कमेंट और छींटाकशी पर उन्होंने कहा, 'आपको खुद से सवाल पूछने पड़ते हैं और जब आप ऐसा करते हैं तो आपको बुरा लगना बंद हो जाता है. आप लोगों को इतनी ताकत ही क्यों दो कि वो आपको बुरा महसूस करवा सकें.'

पुलवामा पर राय

Alia bhatt Soni Razdan
आलिया भट्ट और सोनी राज़दान हाल ही में 'राज़ी' में साथ नज़र आईं थी.


सोनी राज़दान देश से जुड़े मुद्दों पर अक्सर अपनी राय देती आई हैं. हाल ही में पुलवामा हमलों के बाद देशभर में कश्मीरी छात्रों के साथ हुई दुर्व्यवहार की घटनाओं की उन्होंने तीखी आलोचना की थी.

सोनी राज़दान की अगली फिल्म 'Yours Truly' 3 मई से Zee 5 पर आने वाली है. सोनी ने बताया कि  उन्हें अक्सर सलाह दी जाती है कि वो ट्विटर पर अपनी राय न दें, " लोग कहते हैं कि ज्यादा लिखो मत, बस अपनी फिल्म को प्रमोट करो. तुम्हें राय देने की ज़रूरत क्या है? लेकिन बात ये है कि अगर मैं किसी मुद्दे को लेकर कुछ महसूस करती हूं तो उसके बारे में कब बात करूंगी? मरने के बाद ? "

सोनी का मानना है कि लोगों को अपनी बातों को लेकर मुखर होना चाहिए और अगर वो किसी बात को लेकर कुछ महसूस करते हैं तो उसपर बात की जानी चाहिए.

ये भी पढ़ें : महेश भट्ट ने क्यों कहा 'कंगना अभी बच्ची है' ? 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading