लाइव टीवी

सोनी राज़दान ने कहा- अफजल गुरू को बलि का बकरा क्यों बनाया, लोगों ने कहा- गांजा फूंक के बैठी हो?

भाषा
Updated: January 21, 2020, 11:14 PM IST
सोनी राज़दान ने कहा- अफजल गुरू को बलि का बकरा क्यों बनाया, लोगों ने कहा- गांजा फूंक के बैठी हो?
सोनी राजदान

सोनी राजदान (Soni Razdan) के अफजल गुरू (Afzal Guru) के ट्वीट के बाद से सोशल मीडिया में हंगामा खड़ा हो गया है.

  • Share this:
मुंबई. अभिनेत्री सोनी राजदान (Soni Razdan) ने मंगलवार को अफजल गुरू की फांसी के मामले में जांच की मांग करते हुए और उसे बलि का बकरा बनाए जाने का दावा करते हुए ट्वीट किया जिस पर विवाद खड़ा हो गया. उन्होंने एक अन्य पोस्ट में सवाल किया कि किसी ने गुरू के इन आरोपों को गंभीरता से क्यों नहीं लिया कि जम्मू कश्मीर में डीएसपी पद से बर्खास्त हुए दविंदर सिंह ने उसका उत्पीड़न किया था. संसद पर हमले के दोषी गुरू को फरवरी 2013 में फांसी पर लटकाया गया था.

राजदान ने एक खबर का लिंक साझा किया है जिसमें साल 2000 की शुरुआत में गुरू का उसके वकील को लिखे पत्र का ब्योरा है जिसमें संकेत दिया गया था कि संसद पर हमले की साजिश में सिंह शामिल था.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘न्याय का मजाक बन गया है. अगर आदमी बेगुनाह निकला तो कौन उसे मौत से वापस लेने जा रहा है? इसलिए मौत की सजा को हल्के में नहीं लेना चाहिए. इसलिए इस बारे में ठोस जांच होनी चाहिए कि अफजल गुरू को बलि का बकरा क्यों बनाया गया?’’

सिंह को हिज्बुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों को कश्मीर घाटी में पहुंचाने के लिए 12 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) सिंह से पूछताछ कर रही है. राजदान ने एक और ट्वीट करके सफाई दी कि वह गुरू को बेगुनाह नहीं कह रहीं.



उन्होंने कहा, ‘‘कोई नहीं कह रहा कि वह बेगुनाह है. लेकिन अगर उसे प्रताड़ित किया गया था और प्रताड़ना देने वाले ने उसे वो सब करने का आदेश दिया था जो उसने किया, तो क्या इसकी पूरी तरह जांच नहीं होनी चाहिए? किसी ने दविंदर सिंह के खिलाफ अफजल के आरोपों को गंभीरता से क्यों नहीं लिया ?’’

यह भी पढ़ेंः 'छपाक लुक' चैलेंज पर बुरी फंसी दीपिका पादुकोण, कंगना रनौत ने कहा- माफी मांगो

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बॉलीवुड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 10:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर