सोनू सूद के लिए देश भर में दुआओं का दौर, प्रभु के साथ ‘अपने भगवान’ की पूजा करता दिखा फैन

भगवान से कम नहीं मानते सोनू सूद के चाहने वाले. (photocredits :sonu sood/Twitter )

भगवान से कम नहीं मानते सोनू सूद के चाहने वाले. (photocredits :sonu sood/Twitter )

सोनू सूद (Sonu Sood) की वजह से कई घरों में चिराग रोशन हो रहे हैं. सोनू ने कई लोगों को जिंदगी बख्शी है तो कई लोगों के घरों में चूल्हे जलवाए हैं. ऐसे लोग उन्हें भगवान से कम नहीं मानते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2021, 5:16 PM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) कई लोगों के लिए भगवान से कम नहीं है. जब लोगों को किसी से मदद की आस नहीं होती तो एक्टर उनकी मदद के लिए आगे आते हैं. सोनू सूद का सोशल मीडिया अकाउंट मदद मांगते लोगों की गुहार से अटा पड़ा है. ऐसे में जब सोनू सूद के कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) आने की खबर आई तो उनके चाहने वालों पर मानों वज्रपात हो गया. लोग उनके लिए मंदिर-मस्जिद, गुरुद्वारे के मत्थे टेकने लगे. कुछ लोग तो उनकी फोटो को अपने मंदिर में रखकर प्रार्थना में जुट गए.

कोरोना संकट के दौरान पिछले एक साल से लोगों के बीच ‘मसीहा’ बनकर उभरे सोनू सूद ने खुद ट्वीट कर अपने चाहने वालों को संक्रमित होने की जानकारी दी. सोनू के इस ट्वीट के बाद तो मानो उनके ट्विटर अकाउंट पर उनकी सलामती के लिए दुआ करने वाले पोस्टों की बाढ़ आ गई. इसी बीच एक फैन का फोटो सामने आया है, जिसमें वे भगवान के बगल में सोनू की फोटो रखकर प्रार्थना कर रहे हैं. सोनू के इस चाहने वाले की चाहत है कि सोनू भाई मेरे ट्वीट को एक बार देख लें. बुरी तरह परेशान यह शख्स चाहता है कि सोनू स्वस्थ हो जाएं और उसके परिवार के 6 लोगों की जिंदगी बचाने के लिए मदद करें.



सोनू सूद का विल पॉवर ही माना जाएगा जो खुद संक्रमित होते हुए भी लोगों की मदद करने की बात कह रहे हैं. सोनू ने एक पोस्ट कर अपने चाहने वालों को बताया कि अब मेरे पास आपके लिए अधिक समय रहेगा.


सोनू सूद ने दो दिन पहले ही लोगों को आश्वासन देता हुआ एक पोस्ट किया था. महाराष्ट्र समेत पूरे देश में कोविड-19 की वजह से विकट हालात बनते जा रहे हैं. ऐसे में एक बार फिर देश लॉकडाउन की तरफ बढ़ता दिख रहा है. जनता एक बार फिर अपनी रोजी-रोटी को लेकर चिंता में हैं, ऐसे में सोनू ने भरोसा दिलाया कि 'कोशिश जरूर करूंगा'.





इससे पहले सोनू सूद ने बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा न करवाने की मांग की थी. इसके बाद जब सीबीएसई ने 10वीं की परीक्षा रद्द और 12वीं की परीक्षा टाली तो सोनू ने खुशी जताई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज