अक्षय के साथ 500 करोड़ दांव पर लगा सकते हैं, पर मेरे साथ 50 करोड़ भी नहीं: सुनील शेट्टी का छलका दर्द

सुनील ने 1992 में आई फिल्म बलवान से बॉलीवुड डेब्यू किया था (फाइल फोटो)

सुनील ने 1992 में आई फिल्म बलवान से बॉलीवुड डेब्यू किया था (फाइल फोटो)

बॉलीवुड (Bollywood) के मशहूर एक्टर सुनील शेट्टी (Suniel Shetty) ने हाल में अपने करियर और बॉलीवुड पर बात की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 25, 2021, 6:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्लीः सुनील शेट्टी (Suniel Shetty) 30 सालों से बॉलीवुड (Bollywood) से जुड़े हैं. हाल में उन्होंने अपने करियर और जीवन से जुड़ी तमाम बातें कीं. उन्होंने कहा कि उनकी समस्या टाइपकास्ट होना नहीं है, बल्कि करियर में जोखिम न उठाना रही है. सुनील ने 1992 में फिल्म बलवान (Balwan) से बॉलीवुड डेब्यू किया था और जिसके बाद उन्हें एक एक्शन हीरो का तमगा दे दिया गया. इन बीते सालों में सुनील शेट्टी ने मोहरा, बॉर्डर, कांटे और सपूत जैसी फिल्मों से अपनी पहचान बनाई. बाद में वे 'हेरा फेरी सीरीज' (Hera Pheri Series), आवारा पागल दीवाना जैसी फिल्मों में कॉमेडी रोल निभाते नजर आए. उन्होंने धड़कन में रोमांटिक एंटी-हीरो का रोल भी निभाया था.

न्यूज एजेंसी से बातचीत के दौरान एक्टर ने आज के दौर के हीरो पर भी बात की. वे कहते हैं, 'आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) हो या टाइगर श्रॉफ (Tiger Shroff), मुझे लगता है कि कुछ समय बाद, वे भी अपने रोल के साथ एक्सपेरिमेंट करने लग जाएंगे. जरूरी है कि अपनी इमेज बनाना और वे यकीनन अपनी एक इमेज बना चुके हैं. आज इन दो लोगों की प्रशंसा ही की जा सकती है.'

(फोटो साभारः Instagram/suniel.shetty)


जब सुनील से उनके करियर के बारे में बात हुई तो एक्टर ने कहा, 'मेरे साथ समस्या टाइपकास्ट होने की नहीं है, बल्कि मैंने सेफ गेम खेला है. आयुष्मान और टाइगर को इस बात से अलग रखें कि वे विषय, निर्देशकों के साथ गए हैं, न कि सिर्फ बैनर के साथ.' बता दें कि सुनील शेट्टी ने पिछले महीने बिग एफएम के शो '21 दिन वेल्नेस इन' को होस्ट किया था.
सुनील को लगता है कि नई दौर के एक्टर्स को अपना एक अलग स्टाइल बनाना चाहिए. वे कहते हैं, 'मेरे हिसाब से अगर आप कोई रिस्क नहीं लेते, तो आप एक्टर नहीं हैं. अपनी खुद का स्टाइल बनाएं. टाइगर, आयुष्मान, सलमान खान को देखें. वे अपने दम पर खड़े हैं. हम सभी सेल्फ मेड हैं. हां, हमने गलतियां कीं, पर उस समय अक्षय कुमार और अजय देवगन थे, जिन्होंने अपना जलवा दिखाया.' वे आगे कहते हैं, 'यहां एक सुनील शेट्टी भी था जो कुछ सालों बाद फेल हो गया, क्योंकि वह सब्जेक्ट पर यकीन करता था, लेकिन मार्केटिंग में फेल हो गया.'

सुनील को लगता है कि बॉलीवुड में उनकी यात्रा उनके बेटे अहान शेट्टी को उन्हें अपनी राह बनाने में मदद करेगी, जो अब बॉलीवुड में एंट्री करने के लिए पूरी तरह तैयार है. सुनील आगे कहते हैं, 'हम बॉक्स ऑफिस से शुरुआत करते हैं और लोग कैसे प्रतिक्रिया देते हैं. कोई भी आज सुनील शेट्टी के साथ 50 करोड़ रुपये दांव पर नहीं लगाएगा, लेकिन वे अक्षय कुमार के साथ 500 करोड़ रुपये का जोखिम उठाएंगे. जैसा कि मैंने कहा कि मैंने गलतियां कीं, लेकिन अब कोई बात नहीं है. शायद इस तजुर्बे से मेरा बेटा कुछ सीखे.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज