सनी लियोनी के पति का छलका दर्द, कहा- पैनडेमिक में 100 बार हुआ एंग्जाइटी का शिकार

डेनियल के लिए मुश्किल भरा समय रहा. (फोटो साभार: dirrty99/Instagram)

डेनियल के लिए मुश्किल भरा समय रहा. (फोटो साभार: dirrty99/Instagram)

कोरोना महामारी की दूसरी लहर (Second Wave Of Corona Pandemic) में आम खास सभी लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं. हेल्थ के साथ-साथ मानसिक हालत पर भी बुरा असर पड़ा है. डेनियल वेबर (Daniel Weber) भी लॉकडाउन में बेहद खराब समय से गुजरने पर मजबूर हुए हैं.

  • Share this:

मुंबई. एक्ट्रेस सनी लियोनी (Sunny Leone)  और डेनियल वेबर (Daniel Weber) अपने तीनों बच्चों की परवरिश में जुटे हुए हैं. कोरोना काल में अपने प्रोफेशनल कमिटमेंट्स के साथ-साथ बच्चों की देखभाल एक चुनौती की तरह ही है. डेनियल ने एक अच्छी शुरुआत की है. इन दिनों वे पॉजिटिविटी और उम्मीद से भरी स्टोरीज शेयर कर रहे हैं. डेनियल ने पैरेंटिंग से लेकर अपनी मेंटल हेल्थ के बारे में खुलकर बात की है.

टाइम्स से बात करते हुए डेनियल वेबर  ने बताया कि ‘कोरोना महामारी की सेकेंड वेव में हर जगह अफरा तफरी मची हुई थी जो बहुत बुरा था. मैं सिर्फ मदद करना चाहता था. पैसे से मदद के अलावा लोगों को उम्मीद बंधाना भी एक बहुत जरूरी काम था. उम्मीद छोड़ चुके लोगों को वापस जिंदगी की राह दिखाना एक मानवीय कदम था, जो मैं करना चाहता हूं.

डेनियल ने बताया कि ‘कोरोना काल में सौ बार मैं एंग्जाइजी का शिकार हुआ. मेरे अपने लोग पॉजिटिव थे, बीमार थे. मैं पिछले 17 महीने से न्यूयॉर्क में रह रही अपनी फैमिली से नहीं मिल पाया. मैं भी दूसरे लोगों की तरह ही हूं. मैं भी इंसान हूं और कोई ये कहे कि इस पैनडेमिक में डरा नहीं, तो वह झूठ बोल रहा है. यह संभव ही नहीं है. क्योंकि यह पैसे के बारे में नहीं है कि आप कितने धनी हैं, यहां सर्रवाइवल का सवाल है. जिसके पास बहुत धन है, वह भी मर रहे हैं. हम सब एंग्जाइटी का शिकार हुए. हम सब खुद को, अपनों को बचाने की कोशिश में जुटे हुए हैं.



डेनियल से जब बच्चों को संभालने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि ‘मैंने उनके लिए ऐसा माहौल बनाने की कोशिश की ताकि उन्हें ऐसा न लगे कि सब बंद हो गया है. मैंने उनके साथ पार्किंग गैरेज में एक्टिविटीज कीं. उन्हें एंटरटेन करने के लिए सामान आर्डर करता रहा. इसके अलावा स्टोरी सेशन किए. मैं उन्हें हर समय बिजी रखने की कोशिश करता रहा. बच्चे आपस में खेलते हैं, क्योंकि बाहर कहीं जा नहीं पा रहे'.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज