SSR केस: रिया चक्रवर्ती ने पहले की CBI जांच की मांग, अब बोलीं- ये इलिगल और फेडरलिज्म के खिलाफ

SSR केस: रिया चक्रवर्ती ने पहले की CBI जांच की मांग, अब बोलीं- ये इलिगल और फेडरलिज्म के खिलाफ
सुशांत सुसाइड केस में रिया चक्रवर्ती की मुसीबत लगातार बढ़ रही है.

सुशांत सिंह राजपूत की मौत (Sushant Singh Rajput Death Case) के मामले में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) ने कहा है कि सीबीआई (CBI) को इस मामले से तब तक दूर रहना चाहिए, जब तक कि सर्वोच्च न्यायालय अपना फैसला नहीं दे देता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 7, 2020, 1:49 PM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) केस की जांच अब सीबीआई के हाथों में है. सीबीआई ने सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty), उनके परिवार और कुछ दूसरे लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 306, 341, 342, 420, 406 और 506 के तहत मामला दर्ज किया है. सीबीआई के मामला दर्ज करने के बाद रिया का बयान सामने आया है. सुशांत की मौत के करीब एक महीने बाद गृह मंत्रालय से सीबीआई की जांच कराने की अपील करने वाली रिया ने अब इसे इलिगल और फेडरलिज्म के खिलाफ बताया है.

रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty)  ने कहा है कि सीबीआई (CBI)  को इस मामले से तब तक दूर रहना चाहिए, जब तक कि सर्वोच्च न्यायालय अपना फैसला नहीं दे देता. सीबीआई ने बिहार सरकार के एक अनुरोध के बाद रिया चक्रवर्ती और पांच अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है. एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रिया ने गुरुवार शाम को एक बयान में इस केस में सीबीआई जांच को किसी भी ज्ञात कानूनी सिद्धांतों से परे और राष्ट्र के संघीय ढांचे को प्रभावित करने वाला और पूरी तरह से अवैध बताया.





रिया चक्रवर्ती ने फिर कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत मुंबई में हुई, तो केस की जांच भी मुंबई पुलिस को करनी चाहिए. उन्होंने कहा बिहार पुलिस ने मामले को ट्रांसफर कर दिया. मुंबई पुलिस के बजाय मामला सीबीआई के पास चला गया, जिसे इस केस में जांच करने का कोई अधिकार नहीं था.
उन्होंने कहा- SC ने सभी पक्षों को अपना जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है. मुंबई पुलिस को निर्देश दिया गया है कि वह जांच की रिपोर्ट पेश करे. उक्त कार्यवाही को लंबित करते हुए सीबीआई ने (मामला) दर्ज किया है और उस अवैधता को जारी रखा है, जो बिहार पुलिस के हाथों में थी. रिया ने आगे कहा कि सीबीआई देश में एक प्रमुख जांच एजेंसी है, जिसे सुप्रीम कोर्ट की कार्यवाही को लंबित करने से बचना चाहिए.

ये भी पढ़ें- SSR Death Case: CBI ने रिया चक्रवर्ती समेत इन लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR

हालांकि, महाराष्ट्र सरकार ने अब तक इस मामले में सीबीआई जांच की मंजूरी नहीं दी है. राज्य सरकार की स्वीकृति के बिना एजेंसी किसी भी राज्य में लोगों से पूछताछ नहीं कर सकती है.

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की 14 जून को उनके मुंबई स्थित अपार्टमेंट में मौत हो गई थी. उनकी लाश फंदे से लटकी मिली थी. पुलिस ने केस को आत्महत्या बताया था, लेकिन कई सेलेब्स के सवालों के बाद मामला नेपोटिज्म की तरफ मुड़ गया. मामले में नया मोड़ तब आया, जब सुशांत की मौत के करीब 40 दिनों के बाद उनके पिता केके सिंह ने पटना में रिया चक्रवर्ती और अन्य लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया और सीबीआई जांच की मांग भी की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज