सुशांत सिंह राजपूत नहीं कर पाए थे 'दिल बेचारा' के क्लाइमैक्स की डबिंग, किसी और की आवाज में पूरी हुई फिल्म

दिल बेचारा, फाइल फोटो

दिल बेचारा, फाइल फोटो

'दिल बेचारा' (Dil Bechara) की शूटिंग तो काफी पहले ही पूरी हो गई थी मगर इसके आखिरी सीन की डबिंग बाकी थी. बाद में एक वॉयस ओवर आर्टिस्ट ने उनकी आवाज निकालकर डबिंग पूरी की थी. ये डबिंग आर्टिस्ट थे आरजे आदित्य.

  • Share this:

मुंबई. बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के जाने के बाद भी उनके दोस्त और फैंस उन्हें भूल नहीं पाए हैं. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आखिरी फिल्म 'दिल बेचारा' उनके निधन के बाद रिलीज हुई थी और इसे देखकर सभी लोग इमोशनल हो गए थे. क्या आप जानते हैं कि इस फिल्म के क्लाइमैक्स सीन के लिए वो डबिंग नहीं कर पाए थे. बाद में एक वॉयस ओवर आर्टिस्ट ने उनकी आवाज निकालकर डबिंग पूरी की थी. ये डबिंग आर्टिस्ट थे आरजे आदित्य. एक बातचीत में खुद आदित्य ने इस बात का खुलासा किया.

'दिल बेचारा' (Dil Bechara) की शूटिंग तो काफी पहले ही पूरी हो गई थी मगर इसके आखिरी सीन की डबिंग बाकी थी. इसी बीच पिछले साल मार्च में लॉकडाउन (Lockdown) हो गया था, इसलिए शायद सुशांत इस क्लाइमैक्स सीन की डबिंग कर ही नहीं पाए थे. बिना क्लाइमैक्स सीन की डबिंग के फिल्म को रिलीज नहीं किया जा सकता था.

Sushant singh rajput
फोटो साभार: @RJAditya instagram

आदित्य (RJ Aditya) ने एक इंटरव्यू में बताया कि सुशांत के निधन के बाद बची हुई डबिंग के लिए वॉइस ओवर आर्टिस्ट की तलाश हो रही थी. तब मुकेश छाबड़ा के ऑफिस के एक व्यक्ति ने आदित्य से संपर्क किया. ऑडिशन के लिए वहां से फिल्म 'एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी' (MS Dohni: The Untold Story) के एक सीन का वॉइस ओवर करने के लिए कहा गया. आदित्य ने बताया कि वह कई लोगों की आवाज निकाल लेते हैं. सुशांत के लिए उन्हें काफी प्रैक्टिस करनी पड़ी, मगर जब उन्होंने अपना ऑडिशन क्लिप भेजा तो मुकेश छाबड़ा के ऑफिस से कॉल आ गई.
आरजे आदित्य (RJ Aditya) ने बताया कि इस सीन के लिए केवल सुशांत की आवाज की नकल नहीं करनी थी बल्कि कैरेक्टर के सारे इमोशंस भी लाने थे. इसके लिए आरजे आदित्य ने 2 दिन एक्स्ट्रा तैयारी की थी. आरजे आदित्य ने अपनी ऑडिशन वाली क्लिप को सोशल मीडिया पर शेयर भी किया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज