SSR Drugs Case: कोर्ट ने सिद्धार्थ पिठानी को 5 दिन के लिए एनसीबी की कस्टडी में भेजा

समीर वानखेड़े ने कहा कि, हमने पिठानी को कई धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है. (File Photo)

समीर वानखेड़े ने कहा कि, हमने पिठानी को कई धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है. (File Photo)

सिद्धार्थ पिठानी (Siddharth Pithani) 28 मई को मुंबई में कोर्ट के समक्ष पेश किया गया. अदालत ने 1 जून 2021 तक पिठानी को NCB की हिरासत में भेज दिया. क्या पिठानी का सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) ड्रग मामले से सीधा संबंध है, समीर वानखेड़े ने कहा, 'मैं खुलासा नहीं कर सकता'.

  • Share this:

मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस (Sushant Singh Rajput Death Case) से जुड़े ड्रग्स के एक मामले में फरार आरोपियों में से एक सिद्धार्थ पिठानी (Siddharth Pithani) को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB), मुंबई की एक टीम ने गिरफ्तार किया था. पिठानी को 26 मई को हैदराबाद से गिरफ्तार किया गया था. गिरफ्तारी के बाद सिद्धार्थ पिठानी को हैदराबाद की एक अदालत में पेश किया गया. माननीय अदालत ने उसका ट्रांजिट वारंट मंजूर कर लिया और उक्त आरोपी को मुंबई लाया गया है.

इसके बाद पिठानी 28 मई को मुंबई में माननीय सीएमएम अदालत के समक्ष पेश किया गया. अदालत ने 1 जून 2021 तक पिठानी को एनसीबी की हिरासत में भेज दिया. यह पूछे जाने पर कि क्या सिद्धार्थ पिठानी का सुशांत सिंह राजपूत के ड्रग मामले से सीधा संबंध है, समीर वानखेड़े ने कहा, 'मैं खुलासा नहीं कर सकता, पुलिस हिरासत जितना और बहुत कुछ अभी किया जाना है, लेकिन वह क्राइम नंबर 16 (सुशांत सिंह राजपूत ड्रग केस) में महत्वपूर्ण संदिग्धों में से एक था और वह सुशांत सिंह राजपूत की ड्रीम 150 टीम के प्रमुख सदस्यों में से एक था और हमें कुछ अहम सबूत मिले हैं जिसके लिए हमने उसे कई धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है.'

एएनआई का ट्वीट.

सिद्धार्थ पिठानी को पहले नोटिस दिए गए थे, लेकिन वे जांच में शामिल नहीं हुए. सूत्रों के अनुसार, एनसीबी को फोन और व्हाट्सएप चैट विवरण मिलने के बाद सिद्धार्थ पिठानी के खिलाफ कार्रवाई की गई. चैट विवरण में से कुछ सबूतों से संकेत मिलता था कि कथित तौर पर दवा आपूर्तिकर्ताओं के साथ उसके संबंध हैं.

Youtube Video

इस साल मार्च में एनसीबी ने सुशांत सिंह राजपूत ड्रग मामले में 2000 पेज की चार्जशीट दायर की थी और मामले में रिया चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती और अर्जुन रामपाल की पार्टनर गैब्रिएला के भाई अगिसियालोस डेमेट्रिएड्स सहित 33 लोगों को आरोपी बनाया गया था. इससे पहले, सिद्धार्थ पिठानी को अक्सर इस ड्रग्स मामले की जांच में एनसीबी ने पूछताछ के लिए बुलाया था.

सिद्धार्थ पिठानी 2019 में सुशांत सिंह राजपूत के ड्रीम 150 प्रोजेक्ट में शामिल होने मुंबई गए थे. उन्होंने यह नौकरी छोड़ दी और जनवरी 2020 में एक्टर ने उन्हें इस वादे के साथ बुलाया कि वह उन्हें सैलरी देंगे. सिद्धार्थ ड्रीम 150 प्रोजेक्ट पर सुशांत के साथ फिर से शामिल हुए और वे उनके साथ बांद्रा स्थित आवास पर रहने लगे. जब 14 जून को सुशांत की मृत्यु हुई तो वह एक्टर के घर में मौजूद थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज