होम /न्यूज /मनोरंजन /

2 Years of Chhichhore: फिल्म में बेटे को जीने का हौसला देने वाले सुशांत सिंह राजपूत ने खुद कर लिया था सुसाइड!

2 Years of Chhichhore: फिल्म में बेटे को जीने का हौसला देने वाले सुशांत सिंह राजपूत ने खुद कर लिया था सुसाइड!

सुशांत सिंह राजपूत और श्रद्धा कपूर की फिल्म 'छिछोरे' 6 सितंबर 2019 को रिलीज हुई थी. (फोटो साभार: Movies N Memories/twitter)

सुशांत सिंह राजपूत और श्रद्धा कपूर की फिल्म 'छिछोरे' 6 सितंबर 2019 को रिलीज हुई थी. (फोटो साभार: Movies N Memories/twitter)

नीतेश तिवारी (Nitesh Tiwari) के डायरेक्शन में बनी ‘छिछोरे’ (Chhichhore) में सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) ने एक ऐसे पिता का रोल प्ले किया था जो अपने बेटे के सुसाइड करने की कोशिश के बाद उसे मोटिवेट करते हैं और यह बताने की कोशिश करते हैं कि हर बार जीतना जरूरी नहीं होता.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    2 Years of Chhichhore: दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन को एक साल से अधिक समय हो गया लेकिन ऐसा कोई दिन नहीं जाता जब उन्हें याद नहीं किया जाता हैं. आज फिल्म ‘छिछोरे’ Chhichhore) के दो साल पूरे होने पर फिर सुशांत की याद आ गई. 6 सितंबर  2019 को जब यह फिल्म रिलीज हुई थी तब किसी ने सोचा भी नहीं था कि फिल्म में दिए संदेश को सुशांत खुद पर अमल नहीं कर पाएंगे. इस फिल्म में युवाओं के लिए खास मैसेज दिया गया था. हार मिलने के बाद हालात का सामना हिम्मत से करते हुए लूजर के टैग से बाहर आने का और जिंदगी जीने का संदेश दिया गया था.

    सुशांत की बेस्ट फिल्म है ‘छिछोरे’ 

    सुशांत सिंह राजपूत की एक्टिंग को दर्शकों ने काफी पसंद किया था. फिल्म की स्टोरी लाइन ने दर्शकों का दिल जीत लिया था. फिल्म का अधिक प्रमोशन भी नहीं हुआ था फिर भी बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त कलेक्शन करने में कामयाब रही थी. नीतेश तिवारी के डायरेक्शन में बनी ‘छिछोरे’ में सुशांत ने एक ऐसे पिता का रोल प्ले किया था जो अपने बेटे के सुसाइड करने की कोशिश के बाद उसे मोटिवेट करते हैं और बताने की कोशिश करते हैं कि हर बार जीतना जरूरी नहीं होता.

    ‘छिछोरे’  में सुशांत और श्रद्धा पति-पत्नी के रोल में थे

    इस फिल्म में सुशांत सिंह राजपूत ने पिता का और उनकी वाइफ का रोल श्रद्धा कपूर ने निभाया है. सुशांत एक ऐसे तलाकशुदा पिता के रोल में हैं जिसका बेटा जब फेल हो जाता है तो सुसाइड करने की कोशिश करता है. हालांकि बचा लिया जाता है लेकिन अपने बेटे को हौसला देते हैं तो फिल्म की कहानी फ्लैशबैक में शुरू हो जाती है. फिल्म में पिता बने एक्टर अपने बेटे को बताते हैं कि कॉलेज लाइफ में लूजर का टैग हटाकर कैसे टॉपर बने. फिल्म के एक साल पूरे होने पर डायरेक्टर नीतेश तिवारी ने एक वीडियो शेयर कर दिवंगत एक्टर को याद किया था.


    ‘छिछोरे’  की कहानी

    ‘छिछोरे’ कॉलेज स्टूडेंट्स की स्टोरी है,जो यारी-दोस्ती के साथ ही लूजर न बनने की मानसिकता से दूर रहने का संदेश देती है. फिल्म में कॉलेज-हॉस्टल लाइफ की मौज-मस्ती के बीच छात्रों पर खुद को साबित करने का दबाव इतना अधिक रहता है कि अपनी जिंदगी दांव पर लगाने से बाज नहीं आते हैं. इसी को फिल्म में बेहतरीन तरीके से फिल्माया गया है. इस फिल्म को 67वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड में बेस्ट हिंदी फिल्म का अवॉर्ड मिला था. हालांकि फिल्म की सफलता को सेलिब्रेट करने के लिए सुशांत दुनिया में नहीं थे. ऐसे में सवाल उठा था कि जो संदेश फिल्म में देने की कोशिश की उस पर खुद ही अमल नहीं किया.

    ये भी पढ़िए-सिद्धार्थ शुक्ला के प्रेयर मीट में फैंस भी हो सकते हैं शामिल, दिवंगत एक्टर की फैमिली ने किया इंतजाम

    साजिद नाडियावाला ने इस फिल्म को प्रोड्यूस किया था. सुशांत और श्रद्धा के अलावा इस फिल्म वरुण शर्मा, ताहिर राज भसीन, नवीन पोली, तुषार पांडे और प्रतीक बब्बर भी थे.

    Tags: Shraddha kapoor, Sushant singh Rajput

    अगली ख़बर