सुशांत सिंह राजपूत की बहन के ट्विटर, इंस्टाग्राम अकाउन्ट बंद

श्वेता सिंह कीर्ति (Photo Credit: twitter/@shwetasinghkirti)
श्वेता सिंह कीर्ति (Photo Credit: twitter/@shwetasinghkirti)

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत ने बॉलीबुड में भाई-भतीजावाद की बहस छेड़ दी थी, लेकिन उनके परिवार ने अभिनेता की प्रेमिका एवं अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2020, 9:29 PM IST
  • Share this:
मुंबई. दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) के ट्विटर एवं इंस्टाग्राम समेत सोशल मीडिया अकाउन्ट बंद हो गए हैं. यह अभिनेता की मौत के चार महीने बाद हुआ है. श्वेता, राजपूत की मौत के बाद से 'हैशटैग जस्टिस फॉर एसएसआर ' अभियान में सबसे आगे रही हैं.

बहरहाल, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या श्वेता ने खुद अपने अकाउन्टों को बंद किया है क्योंकि उन्होंने सोशल मीडिया छोड़ने का ऐलान नहीं किया था और एकदम से उनके प्रोफाइल गायब हो गए हैं. इससे राजपूत के कई प्रशंसक दुविधा में पड़ गए हैं. वे ट्विटर पर इसके स्क्रीनशॉट साझा कर रहे हैं.

राजपूत की मौत ने बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद की बहस छेड़ दी थी, लेकिन उनके परिवार ने अभिनेता की प्रेमिका एवं अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है. पहले मामले की जांच मुंबई पुलिस ने की थी. बाद में तहकीकात केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दी गई. इस मामले में ही प्रवर्तन निदेशालय और स्वापक नियंत्रण ब्यूरो भी जांच कर रहे हैं.



सुशांत की बहन श्वेता लगातार सोशल मीडिया के जरिए अपने भाई को न्याय दिलाने की कोशिश में लगी हुई हैं. वह सुशांत के फैन्स को अपनी एक्सटेंडेड फैमिली मानती हैं. हाल ही में उन्होंने फैन्स से अपील की थी कि वे प्रधानमंत्री मोदी को 'मन की बात 4 SSR' इनीशिएटिव के लिए वॉइस मैसेज भेजें. अंकिता लोखंडे ने भी श्वेता सिंह कीर्ति के इस मुहिम को स्पोर्ट किया है.
श्वेता ने इस बारे में ट्वीट कर कहा था, 'मन की बात फॉर न्याय और सच के लिए अपनी आवाज उठाने का अच्छा अवसर है. हम इसके जरिए एकजुट रह सकते हैं और दिखा सकते हैं क‍ि जनता इंसाफ का इंतजार कर रही है. मैं अपने इस पर‍िवार को धन्यवाद भी देना चाहूंगी जो हमेशा साथ खड़े रहे'. आपको बता दें कि इसके जरिए फैन्स सुशांत को इंसाफ दिलाने के लिए अपनी बात पीएम मोदी तक रिकॉर्ड कर या मैसेज के जरिए मन की बात के ऑनलाइन पोर्टल में भेजेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज