तापसी पन्नू ने सुनाई खरी-खरी, बोलीं- मैंने कंगना रनौत से कभी सपोर्ट नहीं मांगा, अपनी लड़ाई मैंने खुद लड़ी

तापसी पन्नू ने सुनाई खरी-खरी, बोलीं- मैंने कंगना रनौत से कभी सपोर्ट नहीं मांगा, अपनी लड़ाई मैंने खुद लड़ी
तापसी बेबाकी से अपनी हर राय सोशल मीडिया पर रखती हैं.

हमारे सहयोगी चैनल सीएनएन न्यूज18 से बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने खास बातचीत की.

  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन के बाद कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने जिस तरह से नेपोटिज्म और गुटबाजी के मामले को उठाकर इंडस्ट्री के ही लोगों पर सवाल खड़े किए, उसके बाद सोशल मीडिया (Social Media) पर दोनों तरफ से वार शुरू हुए. कंगना रनौत ने बॉलीवुड की उन एक्ट्रेसेस पर भी निशाना साधा जो आउटसाइडर्स हैं, उन्होंने तापसी पन्नू, स्वरा भास्कर और रिचा चड्ढा़ पर निशाना साधते हुए उन्हें बी ग्रेड का बता दिया. इसके बाद सोशल मीडिया पर एक्ट्रेसेस की कोल्ड वार भी दिखी. लेकिन आज तापसी पन्नू (Tapsee Pannu) ने कंगना रनौत पर जमकर निशाना साधा और दो टूक कहा कि मैंने अपनी लड़ाई खुद लड़ी हैं, कंगना या किसी से भी कोई सपोर्ट नहीं मांगा.

हमारे सहयोगी चैनल सीएनएन न्यूज18 से बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने खास बातचीत की. उन्होंने कहा कि इनसाइडर और आउटसाइडर की ये जो बहस शुरू हुई है तो मैं कहना चाहती हूं कि मुझे खुद के आउटसाइडर होने पर बहुत गर्व हैं. क्योंकि सही-गलत, सफलता-असफलता ये मेरी जर्नी है और यही तो एक आउटसाइडर की खूबसूरती है.


उन्होंने कहा कि लेकिन मुझे परेशानी इस बात से होती है कि मुझे बदनाम किया जा रहा है. मेरी सफलता का बखान गलत तरीके से किया जा रहा है. तापसी ने कहा कि ये नया नहीं है, काफी लंबे वक्त से मुझे अलग-अलग नामों से पुकारा जाता है, जैसे सस्ती कॉपी और भी ऐसे कई नाम हैं. उन्होंने कहा कि लोग घर में क्या बोलते हैं, मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता, क्योंकि ये उनका मेरा लिए जजमेंट हैं, मैं उनके घर जाकर ये नहीं कर सकती कि तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई, मुझे ऐसा कहने की. कंगना पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, 'क्योंकि तुम्हारी शुरू की गई बहस में शामिल नहीं हो रही हूं तो मेरे पर निशाना साध दिया गया.'



तापसी ने कहा कि मैंने कभी तुम्हारा नाम लेकर निशाना नहीं साधा, मैंने कभी तुम्हारी सफलता के बारे में बात नहीं की. ये काम दर्शकों को कर लेने दो. उन्होंने कहा कि मैं यहां अपने कनेक्शनस को प्रूव नहीं करूंगी.

सुशांत के निधन के बाद उठाए गए मामलों पर उन्होंने कहा कि ये अजीब बात है कि हम इन बातों को तब उठा रहे हैं, जब हमने किसी को खो दिया है. अब हम इन मुद्दों को क्यों नहीं देख सकते हैं?

तापसी ने कहा कि सभी सुशांत ने अपनी लड़ाई खुद लड़ी, मैंने अपनी लड़ाई खुद लड़ी है. मैं जब अपनी लड़ाई लड़ रही थी तो किसी की सहायता मैंने नहीं मांगी. उन्होंने आगे कहा कि मैंने बोला था जब मुझे पति-पत्नी और वो से रिप्लेस किया गया था. कंगना का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि वो भी मेरी मदद के लिए नहीं आई और मैंने भी उनसे मदद नहीं मांगी.

सुशांत ने निधन पर उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से ये बात सामने आ रही है कि वो मानसिक रूप से परेशान थे. तापसी ने कहा कि मैं इस मामले पर ज्यादा कुछ अभी नहीं बोल सकती क्योंकि मैं उसे व्यक्तिगत रूप से नहीं जानती थी.

तापसी ने कहा कि मैंने मैंने आत्मानिर्भर होने का फैसला किया है. मैं अपना रास्ता खुद बनाना चाहती हूं और मुझे अपने चुने हुए रास्ते के बारे में कोई अफसोस नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज