'तांडव' के मेकर्स और जीशान अयूब पर ग‍िरफ्तारी का खतरा बरकरार, नहीं म‍िली सुप्रीम कोर्ट से राहत

फोटो: अमेजन प्राइम वीडियो

वेब सीरीज 'तांडव' (Tandav) के मेकर्स को सुप्रीम कोर्ट ने उनके ख‍िलाफ दर्ज एफआईआर में ग‍िरफ्तारी से सुरक्षा देने से इनकार कर द‍िया है. सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में अग्रिम जमानत या एफआईआर रद्द कराने के लिए हाई कोर्ट में जाने की सलाह दी है.

  • Share this:
    न‍िर्देशक अली अब्‍बाज जफर (Ali Abbaz Zafar) की पहली वेब सीरीज 'तांडव' (Tandav) पर उठे व‍िवाद के बाद एक्‍टर जीशान अयूब (Zeeshan Ayyub), अमेजन प्राइम (Amazon Prime Video) और शो के मेकर्स ने सुप्रीम कोर्ट से ग‍िरफ्तारी से सुरक्षा की अपील की थी. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने ऐसी कोई राहत देने से इनकार कर द‍िया है. इस वेब सीरीज में द‍िखाए गए कंटेंट पर धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में देश के कई राज्‍यों में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. ऐसे में अब सुप्रीम कोर्ट ने एक्‍टर मोहम्‍मद जीशान अयूब, अमेजन प्राइम वीडियो (इंडिया) और तांडव के मेकर्स को उनके ख‍िलाफ दर्ज एफआईआर में ग‍िरफ्तारी से सुरक्षा देने से इनकार कर द‍िया है. सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में अग्रिम जमानत या एफआईआर रद्द कराने के लिए हाई कोर्ट में जाने की सलाह दी है. सुप्रीम कोर्ट में अमेजन और इस वेबसीरीज के मेकर्स की ओर से दाखिल याचिकाओं पर बुधवार को सुनवाई की गई. इन याचिकाओं में अलग-अलग राज्यों में डायरेक्टर अली अब्बास जफर समेत कई लोगों के खिलाफ दर्ज FIR को रद्द किए जाने की मांग की गई है.

    जस्टिस अशोक भूषण की अध्‍यक्षता वाली 3 जजों की बेंच ने इस वेब सीरीज के एक्टर और निर्माताओं की ओर से उनके खिलाफ छह राज्यों में दर्ज एफआईआर को क्लब करने की मांग पर नोटिस जारी किया है. जस्टिस आरएस रेड्डी और एमआर शाह ने अंतरिम जमानत देने की अपील ठुकरा दी. इस सीरीज के र‍िलीज होने के बाद से ही इसके न‍िर्माताओं पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के कई मामले दर्ज हुए हैं.

    वेब सीरीज से जुड़े लोगों की तरफ से कोर्ट में वरिष्ठ वकील लॉयर फली एस. नरीमन, मुकुल रोहतगी और सिद्धार्थ लूथरा पहुंचे थे. सर्वोच्च अदालत में अमेजन प्राइम (Amazon Prime) का पक्ष रख रहे फली एस नरीमन ने कहा 'हमने माफी भेज दी है, लेकिन 6 राज्यों में 7 एफआईआर दर्ज की गई हैं. रोज नई एफआईआर सामने आ रही हैं.' उन्होंने कहा, 'इसपर आदेश जारी किया जाए और कोई कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए.' सुनवाई के दौरान अमेजन ने कहा कि हमने कुछ भी गलत नहीं दिखाया है. नरीमन ने कहा, 'हमारे मुताबिक कुछ भी आपत्तिजनक नहीं था. उनके सम्मान को ठेस पहुंची इसलिए हमनें इन्हें हटा लिया. इसके बाद भी 6 राज्यों में एफआईआर दर्ज हैं.'

    सुनवाई के दौरान मुकुल रोहतगी ने पत्रकार अर्नब गोस्वामी के मामले का जिक्र किया. रोहतगी ने कहा 'आपने अर्नब गोस्वामी को राहत दी.' वहीं, अधिवक्ता ने सभी राज्यों के मामलों को मुंबई लाने की बात कही है. उन्होंने कहा 'सभी एफआईआर को मिलाया जाए और मुंबई में ट्रायल चलाए जाएं. हम सभी राज्यों में जाकर ट्रायल्स का सामना नहीं कर सकते.

    तांड़व वेब सीरीज के फिल्मकारों के खिलाफ परिवाद दायर
    तांड़व वेब सीरीज के फिल्मकारों के खिलाफ परिवाद दायर


    आपको बता दें कि लोगों के लगातार व‍िरोध और आक्रोश के बाद इस वेब सीरीज से आपत्त‍िजनक सीन हटा द‍िए गए हैं. साथ ही न‍िर्देशक अली अब्‍बाज जफर लोगों ने उनके नाराजगी के लिए ब‍िना शर्त माफी भी मांग चुके हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.