SSR केस: तनुश्री दत्ता बोलीं- जस्टिस चाहिए तो पुलिस की तरफ मत देखो, वह कोई काम नहीं करती

SSR केस: तनुश्री दत्ता बोलीं- जस्टिस चाहिए तो पुलिस की तरफ मत देखो, वह कोई काम नहीं करती
सुशांत सिंह राजपूत और तनुश्री दत्ता.

तनुश्री दत्ता (Tanushree Dutta) ने कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस (Sushant Singh Rajput Suicide Case) की जांच में उन्हें मुंबई पुलिस (Mumbai Police) पर भरोसा नहीं है. सीबीआई (CBI) को इस केस को अपने हाथ में ले लेना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 2, 2020, 4:35 PM IST
  • Share this:
मुंबई. एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस (Sushant Singh Rajput Case) की गुत्थी उलझती जा रही है. सुशांत के पिता केके सिंह (KK Singh) ने पटना स्थित राजीव नगर पुलिस स्टेशन में रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के सदस्यों समेत 6 लोगों के खिलाफ 25 जुलाई को प्राथमिकी दर्ज कराई थी. जिस दिन से पटना में केस दर्ज हुआ है, उसी दिन से सुशांत केस में दिन प्रतिदिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं.

अब मीटू मामले के कारण चर्चा में रहीं तनुश्री दत्ता (Tanushree Dutta) ने राजपूत की आत्महत्या के मामले की जांच में मुंबई पुलिस (Mumbai Police) पर बड़ी बात कही है. तनुश्री दत्ता ने कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस की जांच में उन्हें मुंबई पुलिस पर भरोसा नहीं है.

'पुलिस को बस पैसे खाने होते हैं'
उन्होंने इंस्टाग्राम के लाइव सेशन में कहा कि, ‘पुलिस कोई काम नहीं करती. पुलिस बस इन्नोसेंट लोगों को बुलाकर 4 घंटे से 8 घंटे तक स्टेटमेंट लिखेगी. पुलिस दुनिया को दिखाएगी कि वह कुछ काम कर रही है, लेकिन करती कुछ नहीं है. उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता. कोई मर जाए, किसी का करियर खराब हो जाए. कोई सुसाइड कर ले, कोई देश छोड़कर चला जाए उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता. उन्हें बस पैसे खाने होते हैं. उन्हें किसी को जस्टिस नहीं दिलाना होता है. जस्टिस पाना हो तो पुलिस की तरफ कभी मत देखो. पुलिस, लॉ और ... सब ढकोसला है.’
View this post on Instagram

A post shared by Tanushree Dutta (@iamtanushreeduttaofficial) on






'सुशांत के केस को अपने हाथ में ले सीबीआई'
तनुश्री दत्ता यहीं नहीं रूकी, उन्होंने आगे कहा कि, 'सीबीआई को इस केस को अपने हाथ में ले लेना चाहिए और यदि इसमें अंडरवर्ल्ड की संलिप्तता है तो इंटरपोल को इसे हाथ में लेना चाहिए. इस तरह के क्राइम के पीछे एक समूह जिम्मेदार होता है न कि कोई खास व्यक्ति. इस समूह के लोग इंतजार करते हैं कि कब यह केस बंद हो जाए.'

तनुश्री ने कहा है कि, पुलिस ज्यादातर ऐसे केसों को बिना किसी जांच के बंद कर देती है. पुलिस राजनेताओं और अपराधियों के हाथों का खिलौना बन जाती है. तनुश्री का यह लाइव चैट वीडियो 23 जून का है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading